नफे सिंह राठी हत्याकांड में पुलिस को बड़ी कामयाबी, 2 शूटर गोवा से गिरफ्तार

Big success for police in Nafe Singh Rathi murder case, 2 shooters arrested from Goa
Big success for police in Nafe Singh Rathi murder case, 2 shooters arrested from Goa
इस खबर को शेयर करें

चंडीगढ़: हरियाणा के नफे सिंह राठी हत्याकांड केस (Nafe Singh Rathee Murder) में पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. हरियाणा पुलिस के हत्थे 2 शूटर चढ़े हैं. गोवा से हरियाणा पुलिस नें 2 शूटर को गिरफ्तार किया है. फिलहाल, झज्जर पुलिस पूरे मामले में आज खुलासा करेगी. झज्जर के एसपी ने फोन पर गिरफ्तारी की पुष्ठि की है.

जानकारी के अनुसार, आरोपी दोनों शूटर के नाम सौरव और आशीष है.झज्जर पुलिस, दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल, हरियाणा एसटीएफ के जॉइंट ऑपरेशन में आरोपियों को गोवा के पकड़ा गया है. पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, सौरभ नांगलोई का रहने वाला है. आज सभी पर रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया जाना था. पुलिस ने इससे पहले, तीन आरोपी शूटर की तस्वीरें और एक-एक लाख रुपये का इनाम घोषित किया था. वहीं, हरियाणा पुलिस की एसटीएफ और दिल्ली पुलिस की स्पेशल चलने हरियाणा-पंजाब समेत गुवाहाटी गोरखपुर और नेपाल बॉर्डर के साथ लगते सभी एरिया में अपनी टीम में लगाई हुई थी.

टेक्निकल और ह्यूमन इंटेलिजेंस की मदद से पुलिस को एक गुप्त सूचना मिली थी कि आरोपी गोवा में मौजूद है और वहां से दूसरी जगह निकलने की तैयारी में है. पुलिस सूत्रों की माने तो आरोपी नेपाल के जरिए बाहर जाने की फिराक में थे. उधर, दो अन्य शूटर अतुल और नकुल के पीछे पुलिस लगी है. दोनों की भी जल्द ही गिरफ्तारी हो सकती है.

इसके साथ ही ये भी खुलासा हुआ है कि दोनों आरोपी कपिल सांगवान उर्फ नंदू गैंग से जुड़े हुए हैं. दोनों शूटरों को झज्जर पुलिस ने गोवा से गिरफ्तार किया है. दोनों शूटरों की गिरफ्तारी के बाद सुबह की फ्लाइट से पुलिस उन्हें लेकर बहादुरगढ़ आएगी. सोमवार दोपहर बाद ही दोनों आरोपियों को बहादुरगढ़ कोर्ट में पेश किया जाएगा.

कब हुआ था हत्याकांड

हरियाणा के बहादुरगढ़ में 26 फरवरी 2024 को इनेलो के प्रदेशाध्यक्ष नफे सिंह राठी की हत्या कर दी गई थी. नफे सिंह राठी अपने काफिले के साथ जब जा रहे थे तो आरोपी चारों शूटर्स ने रेलवे फाटक पर घेरकर नफे सिंह पर ताबड़तोड़ गोलियां मारी थी. उनकी और उनके एक समर्थक की मौके पर ही मौत हो गई थी, जबकि सिक्योरिटी गार्ड घायल हो गए थे. तब से पुलिस को आरोपियों की तलाश थी.