11 साल के बच्चे ने बदला लेने उठाया ऐसा कदम कि रोंगटे खड़े हो गए, पुलिस भी रह गई शॉक्ड

इस खबर को शेयर करें

छत्तीसगढ़. राज्य के कोरबा में गुरुवार को एक सनसनी खेज मामला आया है जहां 11 साल के एक बच्चे ने ईंट से सिर फोड़कर मासूम की बच्चे की हत्या कर दी। बच्चे का शव देर रात बायपास की झाड़ियों में पड़ा मिला था। पुलिस ने डॉग स्क्वॉयड की मदद से आरोपी बच्चे को पकड़ लिया। जानकारी के अनुसार पकड़ा गया आरोपी आदतन बाल अपराधी है और चोरी सहित अन्य मामलों में पहले भी बाल सुधार गृह रहकर आया है।

डॉग स्क्वॉयड की मदद से पकड़ा
गुरुवार सुबह करीब 11 बजे नेहरू नगर के मुड़ापार निवासी अंशू दास (4) पुत्र श्याम दास घर के बाहर खेलते हुए लापता हो गया था। घर वाले आस-पास उसकी तलाश करते रहे, लेकिन उसका पता नहीं चला। जब बहुत देर भी अंशू नहीं मिला तो शाम मामले की सूचना घर वालों ने पुलिस को दी। पुलिस ने डॉग स्क्वॉयड की मदद से बुधवारी रिकांडो बायपास मार्ग पर पेट्रोल पंप के पीछे की झाड़ियों से बच्चे का शव बरामद किया। बच्चे के सिर पर चोट के गहरे निशान मिले साथ ही वहीं पास में खून से सनी ईंट भी पुलिस को मिली। मामला मर्डर का समझ आते ही पुलिस ने मौके परफॉरेंसिक टीम को बुला लिया। पुलिस अपने साथ लाए सर्च डॉग को बच्चे के कपड़े सुघाएं कपड़े सूंघते ही डॉग बस्ती की और भागने लगा और एक घर में घुस के उसमें रह रहे 11 साल के बच्चे पर झपट्टा मार उसके ऊपर बैठ गया।

खुन्नस के कारण किया मर्डर
जब पुलिस ने बच्चे को हिरासत में लेकर पूंछताछ की तो उसने बताया कि उसने ही अंशू की हत्या की है। आगे बताते हुए उसने कहा कि तीन महीने पहले उसका अंशू से झगड़ा हो गया था और अंशू ने उसे पत्थर मार दिया था। इसी कारण वह उससे खुन्नस पाल बैठा था,और एक दिन बहाने से बच्चे को झाड़ियों के पास बुलाया और ईंट से हमला कर उसे मार डाला। आरोपी ने कहा कि यह सब उसने अपना बदला लेने के लिए किया है।

भड़के बस्ती वाले परिवार को हटाने को अड़े
घटना सामने आने के बाद बस्ती वाले आरोपी परिवार पर भड़क गए है और उनकों बस्ती से बाहर निकालने की बात कह रहे है। उनका कहना है कि जिनका आदतन अपराधी है,उससे पूरी बस्ती को भी खतरा हो सकता है।