मुजफ्फरनगर में 12 हजार छात्रों ने मानव श्रृंखला बनाई : यातायात नियमों का पालन करने का संदेश दिया

मुजफ्फरनगर में विभिन्न स्कूल कॉलेज के 12000 छात्र छात्राओं ने एकत्र होकर 3 किलोमीटर लंबी मानव श्रृंखला बनाई। मानव श्रृंखला के माध्यम से छात्र-छात्राओं ने यातायात नियम पालन का संदेश लोगों को दिया।

12 thousand students form human chain in Muzaffarnagar: message to follow traffic rules
12 thousand students form human chain in Muzaffarnagar: message to follow traffic rules
इस खबर को शेयर करें

मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर में विभिन्न स्कूल कॉलेज के 12000 छात्र छात्राओं ने एकत्र होकर 3 किलोमीटर लंबी मानव श्रृंखला बनाई। मानव श्रृंखला के माध्यम से छात्र-छात्राओं ने यातायात नियम पालन का संदेश लोगों को दिया। साथ ही विभिन्न नारों से लोगों को सड़क सुरक्षा और यातायात नियम पालन के प्रति जागरूक किया। स्कूल कॉलेज में यातायात नियम पालन की शपथ भी दिलाई गई।

सोमवार को विभिन्न स्कूल कॉलेजों में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 126 वी जयंती मनाई गई। नेताजी को श्रद्धांजलि अर्पित कर छात्र-छात्राएं महावीर चौक पर एकत्रित हुए। विभिन्न स्कूल कॉलेज के करीब 12000 छात्र-छात्राओं ने 3 किलोमीटर लंबी मानव श्रृंखला बनाते हुए यातायात नियम पालन का संदेश लोगों को दिया। मानव श्रृंखला महावीर चौक से शुरू होकर मीनाक्षी चौक होते हुए सुजडू तक पहुंची। श्रृंखला में शामिल छात्र-छात्राओं ने सड़क सुरक्षा और यातायात नियम पालन के प्रति लोगों को जागरूक करते हुए नारे लगाए।

नेताजी के बताए रास्ते पर आगे बढ़ें
डीआईओएस गजेंद्र कुमार ने बताया कि सोमवार को विभिन्न स्कूल कॉलेज में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती मनाई जा रही है। उन्होंने बताया कि अपने कार्यालय में उन्होंने नेताजी के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर छात्राओं को संदेश दिया कि वे उनके बताए रास्ते पर आगे बढ़े। उन्होंने बताया कि इसके उपरांत विभिन्न स्कूल कॉलेज से एकत्र छात्र छात्राओं को यातायात नियम की जानकारी दी गई। महावीर चौक पर एकत्र होकर 3 किलोमीटर लंबी मानव श्रृंखला बनाई गई। इस मौके पर एडीएम प्रशासन नरेंद्र बहादुर सिंह, एआरटीओ, जीआईसी प्रधानाचार्य पुष्पेंद्र त्यागी, डीएवी इंटर कॉलेज प्रिंसिपल सुनील कुमार सहित इस्लामिया इंटर कॉलेज, एमजी पब्लिक स्कूल, जीसी पब्लिक स्कूल आदि विद्यालयों के प्रधानाचार्य, शिक्षक एवं छात्र छात्राएं मौजूद रहे।