ATM से कैश निकालने पर कट रहे हैं 24 रुपये, इस ट्रिक से बचाएं ये चार्ज!

ऑनलाइन पेमेंट यानी यूपीआई तो फ्री हो गया लेकिन एटीएम (ATM) से पैसा निकालना और महंगा हो गया है. पैसा निकालने की तय सीमा के बाद निकाले जाने वाले हर लेनदेन के लिए बैंक आपसे पहले से ज्‍यादा चार्ज वसूल करेगी.

24 rupees are deducted for withdrawing cash from ATM, save this charge with this trick!
24 rupees are deducted for withdrawing cash from ATM, save this charge with this trick!
इस खबर को शेयर करें

ATM Bank Charge: ऑनलाइन पेमेंट यानी यूपीआई तो फ्री हो गया लेकिन एटीएम (ATM) से पैसा निकालना और महंगा हो गया है. पैसा निकालने की तय सीमा के बाद निकाले जाने वाले हर लेनदेन के लिए बैंक आपसे पहले से ज्‍यादा चार्ज वसूल करेगी. देशभर के सभी बड़े सरकारी और प्राइवेट बैंक ने एटीएम से कैश विड्रॉल को लेकर नियमों में बदलाव कर दिया है. बैंक पैसे निकालने के नाम पर अब 15 से 25 रुपये के बीच में वसूल रहे हैं. इस चार्ज से आप कैसे छूटकारा पा सकते हैं.

पहले जानते हैं बैंक के नए नियमों के बारे में

SBI ATM Charge
अगर आप मेट्रो शहरों में कार्ड को यूज करते हैं तो यहां मुफ्त लेनदेन की संख्या 3 तक सीमित है. मुफ्त सीमा से ज्‍यादा बार यूज करने पर बैंक हर नकद निकासी पर 10 रुपये का चार्ज लगता है. अगर आप दूसरी बैंक के एटीएम पर लेनदेन करते हैं तो SBI प्रति लेनदेन 20 रुपये का शुल्क वसूल करता है. इसके अलावा, कस्‍टमर से जीएसटी (GST) भी वसूला जाता है.

PNB ATM Charge
अगर आप मेट्रो शहरों में कार्ड को यूज करते हैं तो यहां मुफ्त लेनदेन की संख्या 5 तक सीमित है. मुफ्त सीमा से ज्‍यादा बार यूज करने पर बैंक हर नकद निकासी पर 10 रुपये का चार्ज लगता है. अगर आप दूसरी बैंक के ATM से ट्रांजैक्शन करते हैं तो मेट्रो सिटी में 3 फ्री ट्रांजैक्शन और गैर मेट्रो सिटी में 5 फ्री ट्रांजैक्शन का नियम है.

प्रति ट्रांजैक्शन की रकम
आपको बता दें कि बैंक के एटीएम से छह मेट्रो शहरों में पहले 3 ट्रांजैक्शन बिल्कुल मुफ्त होते है. ये छह शहर मुंबई, दिल्ली, चेन्नई, कोलकाता, बेंगलुरु और हैदराबाद है. इसमें फाइनेंशियल और नॉन फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन दोनों ही शामिल हैं. जबकि गैर मेट्रो शहरों में 5 बार तक एटीएम से पैसा निकाला जा सकता है. तय सीमा के बाद मेट्रो शहरों में फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन करने पर 20 रुपए प्रति ट्रांजैक्शन और 8.50 रुपए नॉन फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन के तौर पर देना होता था. जिसे अब बढ़ाकर 21 रुपये कर दिया है. एटीएम मशीन लगाने और उसके रखरखाव से जुड़े खर्च की वजह से ट्रांजैक्शन फीस बढ़ाने का फैसला लिया गया है.

ऐसे बचाएं इस चार्ज को
अगर इस चार्ज से झंझट पाना चाहते हैं तो आप ICICI बैंक का वेल्‍थ अकाउंट यूज कर सकते हैं क्‍योंकि इस खाते में आपको डेबिट कार्ड की सालाना फीस भी नहीं देनी होगी और अगर आप ICICI बैंक के एटीएम से पैसे निकालते हैं तो आपसे एक रुपया भी चार्ज नहीं वसूला जाएगा. हालांकि अगर आप दूसरे बैंक के एटीएम से पैसे निकालेंगे तो आपको इस शुल्‍क का भुगतान करना होगा.