मुजफ्फरनगर में भाकियू जिलाध्यक्ष समेत 5 अरेस्ट, पूरा मामला जान होंगे हैरान

सरकारी कार्य में बाधा डालने और रंगदारी का मुकदमा समाप्त कराने के लिए पुलिस पर दबाव बनाने के आरोप में भाकियू भानु गुट के 5 नेताओं का चालान किया गया।

5 arrests including BKU district president in Muzaffarnagar, you will be surprised to know the whole matter
5 arrests including BKU district president in Muzaffarnagar, you will be surprised to know the whole matter
इस खबर को शेयर करें

मुजफ्फरनगर। सरकारी कार्य में बाधा डालने और रंगदारी का मुकदमा समाप्त कराने के लिए पुलिस पर दबाव बनाने के आरोप में भाकियू भानु गुट के 5 नेताओं का चालान किया गया।

मुजफ्फरनगर में भाकियू भानू गुट के जिलाध्यक्ष सहित 5 लोगों को हिरासत में लेकर चालान कर दिया। सभी पर रंगदारी का मुकदमा समाप्त कराने के लिए पुलिस पर दबाव बनाने का आरोप है। भाकियू भानू गुट के नेताओं की तीन गाड़ियां सीज की गई हैं। जिनसे तीन हूटर भी बरामद हुए। पुलिस ने गिरफ्तार सभी भाकियू नेताओं का आपराधिक रिकार्ड भी बताया है।

प्रभारी निरीक्षक थाना पुरकाजी ज्ञानेश्वर बौद्ध ने बताया कि शुक्रवार सायं भाकियू भानू गुट के लोगों ने पुरकाजी थाना पहुंचकर रंगदारी के एक मामले में पुलिस पर दबाव बनाया था कि मुकदमें को समाप्त कर दिया जाए। मौके पर सीओ सदर भी पहुंच गए थे। पुलिस से भाकियू भानू गुट के नेताओं की वार्ता होनी थी, लेकिन इस बीच थाने में खड़ी गाड़ियों से हूटर बजाकर पुलिस पर दबाव बनाने का प्रयास किया गया। जिस पर नाराज सीओ सदर ने तीन गाड़ियों को सीज कराकर पांच लोगों को हिरासत में ले लिया। मुकदमा दर्ज कर शनिवार को उनका चालान सरकारी कार्य में बाधा डालने, पुलिस से दर्व्यवहार आदि आरोपों में कर दिया गया। जबकि 6 अन्य कार्यकर्ताओं का चालान शांति भंग की धाराओं में किया गया।

पुलिस के अनुसार थाना पुरकाजी परिसर में पुलिस पर दबाव बनाने तथा सरकारी कार्य में बाधा डालने के आरोप में भाकियू भानू गुट के जिलाध्यक्ष बलराम ठाकुर पुत्र देवेन्द्र सिह निवासी ग्राम रामपुर थाना छपार, शमशाद अहमद पुत्र सईद निवासी मौहल्ला झोझगान, असलम शेख पुत्र सिकन्दर एवं इस्तकार पुत्र इलियास निवासी मौहल्ला कानून गोयान एवं अरूण पुत्र रघुनाथ निवासी बुच्चा बस्ती थाना पुरकाजी काे गिरफ्तार कर उनका चालान कर दिया गया।

पुलिस के अनुसार गिरफ्तार किये गए भाकियू भानू गुट के नेताओं पर कई अपराधिक मुकदमें पहले से ही दर्ज हैं। उन्होंने बताया कि जिलाध्यक्ष बलराम ठाकुर पर हत्या का प्रयास, धमकी मारपीट आदि की धाराओं में 8 मुकदमे दर्ज हैं। जबकि शमशाद, असलम शेख व अरुण पर भी कई मुकदमें दर्ज हैं।