‘800 का खाना 200 रुपये में’… Zomato के साथ ठगी कर रहे हैं डिलिवरी एजेंट!

ऑनलाइन फूड डिलीवर कंपनी जोमैटो एक बार फिर सुर्खियों में छाया हुआ है. हालांकि इस बार किसी बड़े डिस्काउंट के चलते नहीं बल्कि एक फ्रॉड को लेकर. आपने कई बार खबरों में पढ़ा होगा कि जोमैटो से खाना मंगवाया.

'800 food for 200 rupees'... Delivery agents are cheating with Zomato!
'800 food for 200 rupees'... Delivery agents are cheating with Zomato!
इस खबर को शेयर करें

नई दिल्ली. ऑनलाइन फूड डिलीवर कंपनी जोमैटो एक बार फिर सुर्खियों में छाया हुआ है. हालांकि इस बार किसी बड़े डिस्काउंट के चलते नहीं बल्कि एक फ्रॉड को लेकर. आपने कई बार खबरों में पढ़ा होगा कि जोमैटो से खाना मंगवाया. लेकिन जब ग्राहक शिकायत करने गया तो उसके खाते से पैसे उड़ गए. लेकिन इस बार फ्रॉड की खबर किसी फिशिंग गैंग के सदस्य नहीं बल्कि जोमैटो में फूड डिलीवर करने वाले युवक ने फ्रॉड करने की कोशिश की.

दरअसल, एक युवक ने दावा किया है कि उसे फूड डिलिवरी एजेंट ने कहा कि अगली बार जब खाना ऑर्डर करें तो ऑनलाइन पेमेंट ना दे. साथ ही एजेंट ने युवक को बताया कि वो कैसे आजकल जोमैटो कंपनी के साथ धोखा कर रहे हैं. युवक ने लिंकइडन पर पोस्ट कर कर इस घटना की जानकारी दी. इसके बाद जोमैटो के को-फाउंडर और सीईओ दीपेंद्र गोयल ने युवक के इस ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि कमियों को दूर करने की कोशिश कर रहे हैं.

विनय सती नाम के उद्यमी ने कहा कि जब डिलिवरी एजेंट ने उसे कंपनी को चीट करने का तरीका बताया तो उसके रोंगटे खड़े हो गए. सती ने ट्वीट कर कहा कि उन्होंने कुछ दिन पहले जोमैटो से बर्गर का ऑर्डर दिया था और जब एजेंट आया तो उसने उससे कहा, “सर, अगली बार ऑनलाइन भुगतान न करें. उसने कहा कि अगली बार जब आप सीओडी (कैश ऑन डिलीवरी) के माध्यम से 700-800 रुपये का खाना ऑर्डर करेंगे तो आपको केवल 200 रुपये का भुगतान करना होगा. मैं इसे ज़ोमैटो को दिखाऊंगा कि आपने खाना नहीं लिया है. इसके बाद खाना भी मिलेगा और आप 200 या 300 में 1000 रुपये के खाने का आनंद लेना.’

युवक ने पोस्ट में कहा कि मेरे पास दो रास्ते थे या तो मैं फ्री में खाने का लुत्फ लेता या फिर कंपनी को रिपोर्ट करता, जो मैंने किया है. युवक ने कंपनी को सीईओ को टैग कर सवाल किया कि अब आप ये मत कहना कि आपको ये पता नहीं था और अगर आपको पता था तो फिर इसे सॉल्व क्यों नहीं किया.