बिना कपड़ों के सड़क पर घूमने वाली लड़की मामले में आया नया मोड़, परिवार ने बताई सच्चाई, फूफा ने…

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में युवती के बिना कपड़ों में घूमने के मामले में पिता के बयान के बाद नया मोड़ आ गया है। युवती के फूफा ने इस मामले में तहरीर देते हुए 5 युवकों पर सामूहिक दुष्कर्म का आरोप लगया था।

A new twist came in the case of a girl walking on the road without clothes, the family told the truth
A new twist came in the case of a girl walking on the road without clothes, the family told the truth
इस खबर को शेयर करें

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में युवती के बिना कपड़ों में घूमने के मामले में पिता के बयान के बाद नया मोड़ आ गया है। युवती के फूफा ने इस मामले में तहरीर देते हुए 5 युवकों पर सामूहिक दुष्कर्म का आरोप लगया था। अब तक पुलिस इस केस को रेप के एंगल से तफ्तीश कर रही थी। लेकिन, पिता ने बेटी के साथ दुष्कर्म की घटना से साफ इंकार कर दिया है।

पिता के अनुसार कि उनकी बेटी मंदबुद्धि है और बेटी के साथ कोई घटना नहीं हुई है, हमको बदनाम किया जा रहा है जिसने थाने में तहरीर देकर FIR दर्ज कराई है वो उनका बहनोई है और युवती का फूफा है, उनको बदनाम किया जा रहा है। उनके बहनोई द्वारा उनको बदनाम करने की कोशिश है, वह कोई कार्रवाई नहीं चाहते हैं।

ग्राम प्रधान ने भी लड़की को बताया मंदबुद्धि
इस मामले में ग्राम प्रधान ने भी लड़की के मंदबुद्धि होने की बात कही है। गांव के प्रधान का कहना है कि गांव में मेला चल रहा था, सब मेले में व्यस्त थे, गांव की रंजिश के चलते लोगों को फंसाया जा रहा है, मेरे बेटे का नाम भी लिखाया गया है, बेटा उस लडक़ी की जानता तक नहीं, वो लड़की मंदबुद्धि है वो ऐसा अक्सर ऐसा करती रहती है।

वहीं गांव के ही रहने वाले एक अन्य व्यक्ति ने इस मामले को झूठा बताया है। व्यक्ति ने कहा कि घटना के समय जो लोग गांव में मौजूद भी नहीं थे, उनके नाम भी प्राथमिकी में दर्ज करवा दिए गए हैं। इस मामले की जो भी अधिकारी जांच करेंगे, उससे सब सामने निकल कर आ जायेगा।

पुलिस ने एक युवक को किया गिरफ्तार
एसपी ग्रामीण संदीप कुमार मीणा ने घटना के बारे में बताया था, ‘7 सितंबर 2022 को लड़की के फूफा द्वारा थाना भोजपुर में तहरीर दी गई की उसकी भतीजी के साथ रेप की घटना हुई है, तहरीर प्राप्त होने पर तुरंत मुकदमा दर्ज कर लिया गया, लड़की और उसके माता-पिता के 161 और 64 में बयान हुए जिसमें उन्होंने घटना से इनकार किया है, जिसके बावजूद पुलिस ने वीडियो के आधार पर एक युवक को कस्टडी में भेज दिया है, बाकी कार्रवाई चल रही है।’