लड़का बन पड़ोसी को लूटने पहुंच गई महिला, फिर जो हुआ अब तक पछता रही

demo pic
demo pic
इस खबर को शेयर करें

दक्षिण-पश्चिम दिल्ली के छावला इलाके में 38 वर्षीय महिला को अपने पड़ोसी को लूटने की कोशिश करते हुए गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने बताया कि संदिग्ध रेखा, जिसने खुद को एक कूरियर बॉय बताया था, ने दावा किया कि आर्थिक तंगी के कारण उसने यह अपराध किया है.

चंदरकांता नाम की महिला ने शिकायत में बताया कि 23 मई को सुबह 11.30 बजे जब वह घर पर थी तो एक कूरियर डिलीवरी वाला आया और उससे रिसिप्ट पर दस्तखत करने के लिए पेन मांगा. पुलिस अधिकारी ने बताया कि जैसे ही वह अपने घर के अंदर गई, व्यक्ति ने उसका पीछा किया और उसे अचानक पकड़कर खिलौने वाली पिस्तौल से कई बार उस पर हमला किया, जिससे उसके शरीर से खून बहने लगा.

हमलावर ने अपना चेहरा तौलिए से ढका हुआ था और उसने हेलमेट पहना हुआ था और हाथों में दस्ताने भी पहने हुए थे. द्वारका पुलिस उपायुक्त अंकित सिंह ने बताया कि जब कांता ने मदद के लिए आवाज लगाई तो हमलावर तुरंत मौके से भाग गया. डीसीपी ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज की जांच करने के बाद पुलिस ने हमलावर की पहचान की और सोमेश विहार के एक खाली घर से रेखा को गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ के दौरान, संदिग्ध, जो सिविल डिफेंस वॉलंटियर के रूप में काम करती थी, लेकिन अब बेरोजगार है, ने बताया कि उसे अपना घर चलाने में दिक्कत आ रही थी.

डीसीपी ने बताया कि अपने खर्चों को पूरा करने के लिए रेखा ने कथित तौर पर अपने पड़ोसी को लूटने की योजना बनाई थी, क्योंकि उसे लगता था कि कांता बहुत अमीर है और उसके पास काफी मात्रा में धन और आभूषण हैं.

अपनी योजना के अनुसार, रेखा कूरियर बॉय बन गई और एक बैग लेकर गई जिसमें खिलौने वाली पिस्तौल, दस्ताने, रस्सी और कपड़े थे. फिर उसने अपने पड़ोसी पर हमला किया. अधिकारी ने कहा, “जब कांता ने चिल्लाना शुरू किया, तो हमलावर भाग गया और एक खाली घर में छिप गया. वहां, उसने पुरुषों के कपड़े बदले और अपने घर लौटने से पहले पड़ोसी के घर की सीढ़ियों पर अपराध के औजार छोड़ दिए. कुछ ही देर बाद, वह चिंतित होने का नाटक करते हुए कांता के घर पर एकत्रित भीड़ में शामिल हो गई.”