अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद संकट में AAP, ‘गायब’ हैं 10 में से 7 सांसद

इस खबर को शेयर करें

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद आम आदमी पार्टी (आप) संकट में घिरती नजर आ रही है। उसके करीब 7 सांसद दिल्ली के साथ-साथ देश के अन्य हिस्सों मो किए गए विरोध प्रदर्शन के दौरान गायब रहे। 10 में से सिर्फ 3 सांसद पार्टी के लिए आवाज उठाते दिख रहे हैं। लोकसभा में आप के इलकौते सांसद सुशील कुमार रिंकू ने हाल ही में भाजपा का दामन थाम लिया था। हाल में जमानत पर बाहर आए संजय सिंह से जब इसके बारे में पूछ गया तो उन्होंने कहा, ‘पार्टी इस विषय पर चर्चा करेगी।’

अरविंद केजरीवाल और संजय सिंह की गिरफ्तारी एक ही मामले में हुई थी। जमानत पर रिहा होने के बाद संजय सिंह आप का चेहर बनते जा रहे हैं। उनके अलावा, आप के राष्ट्रीय महासचिव (संगठन) संदीप पाठक और एनडी गुप्ता विरोध प्रदर्शन के दौरान सक्रिय रूप से दिख रहे हैं।

क्यों शांत हैं राघव चड्ढा?

अपनी पार्टी के लिए मुखर रहने वाले पंजाब से राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा पिछले महीने आंख की सर्जरी के लिए लंदन गए थे। उनका मार्च के अंत में लौटने का कार्यक्रम था। उनकी पत्नी परिणीति चोपड़ा अपनी फिल्म अमर सिंह चमकीला को नेटफ्लिक्स पर रिलीज करने के लिए वापस लौट चुकी हैं। लेकिन रावघ चड्ढा अभी भी लंदन में ही हैं। 21 मार्च को केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद राघव चड्ढा सोशल मीडिया में लगातार बोल रहे हैं। संजय सिंह के बाहर निकलने पर भी उन्होंने खुशी का इजहार किया था।

इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के मुताबिक, उनकी वापसी में इसलिए देरी हो रही है क्योंकि सर्जरी के बाद उन्हें धूप से परहजेज कने के लिए कहा गया है। पार्टी के एक नेता ने कहा, “जैसे ही उन्हें डॉक्टरों से मंजूरी मिल जाएगी, वह वापस आ जाएंगे और पार्टी की गतिविधियों में शामिल हो जाएंगे।”

स्वाति मालीवाल भी बाहर

दिल्ली से पहली बार सांसद बनीं स्वाती मालीवाल इन दिनों अमेरिका में हैं। उन्होंने पार्टी से कहा है कि उन्हें वहां रहने की जरूरत है क्योंकि उनकी बहन बीमारी से उबर रही हैं। मालीवाल सोशल मीडिया पर अपनी पार्टी के लिए लगातार पोस्ट कर रही हैं। बीजेपी ने आरोप लगाया कि AAP के कई नेता केजरीवाल के समर्थन में सामने नहीं आ रहे हैं। हालांकि, मालीवाल ने इस खबर का खंडन किया है।

हरभजन सिंह

भारत के पूर्व क्रिकेटर हरभजन ने पंजाब से राज्यसभा सांसद बनने के बाद से आप की गतिविधियों में शायद ही कभी भाग लिया हो। केजरीवाल की गिरफ्तारी पर भी वह चुप हैं। उन्होंने अपने सोशल मीडिया हैंडल्स पर हाल में कई पोस्ट किए हैं, लेकिन लगभग सभी आईपीएल के बारे में हैं। 24 मार्च को उन्होंने पंजाब के मुख्यमंत्री और आप नेता भगवंत मान को उनकी बेटी के जन्म पर बधाई दी थी। उनसे जब पूछा गया कि क्या वह AAP द्वारा आयोजित विरोध प्रदर्शन में भाग लेंगे, तो उन्होंने कहा कि नहीं।

अशोक कुमार मित्तल

पंजाब स्थित लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी के संस्थापक और आप सांसद मित्तल भी पार्टी गतिविधियों से काफी हद तक अनुपस्थित रहे हैं। उन्होंने कहा कि मैं पार्टी के विरोध-प्रदर्शन के बारे में बात करने के लिए अधिकृत नहीं हूं। पार्टी मुख्यालय हमें बताएगा कि क्या करना है। उन्होंने यह भी दावा किया कि उन्हें पार्टी द्वारा हाल ही में आयोजित एक विरोध प्रदर्शन में आमंत्रित नहीं किया गया था।

संजीव अरोड़ा

पंजाब से एक और सांसद संजीव अरोड़ा ने कहा कि उन्होंने केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद 24 मार्च को उनकी पत्नी सुनीता केजरीवाल से मुलाकात की थी। हालांकि, उन्होंने रामलीला मैदान में इंडिया गठबंधन के विरोध प्रदर्शन में शामिल नहीं होने की बात स्वीकार की। अरोड़ा ने कहा कि वह इसलिए शामिल नहीं हो सके क्योंकि वह लुधियाना में पार्टी द्वारा दिए गए एक काम में व्यस्त थे। उन्होंने कहा, “मैंने हमेशा मुझे दी गई जिम्मेदारियों को पूरा किया है। मैं एनडी गुप्ता के लगातार संपर्क में हूं, जो राज्यसभा में हमारे नेता हैं। अगर मुझे विरोध प्रदर्शन के लिए आने के लिए कहा जाता है तो मैं वहां रहूंगा।”

बलबीर सिंह सीचेवाल

पंजाब से आप के राज्यसभा सांसद बलवीर सिंह सीचेवाल को भी अधिकांश पार्टी विरोध प्रदर्शनों में नहीं देखा गया है। जब उनसे उनकी अनुपस्थिति के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ”मैं एक धर्मनिष्ठ व्यक्ति हूं और अपने कर्तव्यों का पालन कर रहा हूं। अगर कोई योजना है तो हम उसे साझा करेंगे।”

विक्रमजीत सिंह साहनी

साहनी भी दूसरे सांसदों की तरह आम आदमी पार्टी की गतिविधियों से काफी हद तक अनुपस्थित हैं। वह केजरीवाल की गिरफ्तारी पर चुप हैं। पिछले कुछ दिनों में उन्होंने स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय में छात्रों के साथ और लेखक खुशवंत सिंह की स्मृति में एक सभा में अपनी बातचीत का वीडियो किए हैं।