पिता के निधन के बाद संभाला घर, नहीं की शादी, ‘जगमोहन की अम्मा’ ने 54 की उम्र में शुरू की एक्टिंग

After father's death, she took care of the house, did not get married, 'Jagmohan's Amma' started acting at the age of 54
After father's death, she took care of the house, did not get married, 'Jagmohan's Amma' started acting at the age of 54
इस खबर को शेयर करें

नई दिल्ली: अमेजन प्राइम की पॉपुलर वेब सीरीज ‘पंचायत’ का तीसरा सीजन कुछ दिन पहले ही आया है. पहले दो सीजन की जबरदस्त कामयाबी के बाद, ‘पंचायत 3’ को भी जनता ने खूब पसंद किया है. किरदारों और कहानी के साथ ऑडियंस को शो के रेगुलर कलाकारों रघुवीर यादव, नीना गुप्ता, जितेंद्र कुमार, फैजल मलिक और अशोक पाठक का काम भी बहुत पसंद किया जा रहा है. मगर ‘पंचायत’ के तीसरे सीजन में आया एक नया किरदार बहुत चर्चा में है. शो में जगमोहन की अम्मा उर्फ दमयंती देवी का किरदार बहुत चर्चा बटोर रहा है. इस किरदार को निभाने वालीं एक्ट्रेस आभा शर्मा की खूब सराहना की जा रही है. 75 साल की आभा ने अब बताया है कि उनका एक्टिंग का सफर कितना मुश्किलों भरा रहा है. उन्हें हमेशा से एक्टिंग का शौक था, मगर उन्हें इस सपने को हकीकत में बदलने का मौका 54 साल की उम्र में मिला.

पिता के निधन के बाद संभाला घर
इंडियन एक्सप्रेस के साथ बातचीत में आभा ने बताया कि वो अपने परिवार में सबसे छोटी थीं. उनकी बड़ी बहन का परिवार दिल्ली में और बड़े भाई का परिवार हैदराबाद में है. मगर अब उनके भाई-बहन का निधन हो चुका है. आभा ने अपने पिता के निधन के बाद एक टेलेकॉम कंपनी में नौकरी की और वो अपनी मां का ध्यान रखने के लिए घर पर ही रहीं. इसीलिए उन्होंने शादी भी नहीं की. हमेशा से आर्टिस्ट बनने का ख्वाब देखने वालीं आभा ने जे.जे. स्कूल ऑफ आर्ट्स से डिप्लोमा किया और 1979 से टीचर की नौकरी करने लगीं.

आभा ने बताया, ‘मैं बचपन से एक्टर बनना चाहती थी. लेकिन मेरी मां ने फिल्म इंडस्ट्री में जाने की इजाजत नहीं दी. उन्हें ये काम नहीं पसंद था. और मैं उनकी मर्जी के खिलाफ नहीं जाना चाहती थी. हालांकि, मेरा परिवार अच्छा पढ़ा लिखा था, मगर वो थोड़े ऑर्थोडॉक्स थे. मेरी मां के निधन के बाद, मैंने दोबारा एक्टिंग शुरू की. और इस बार मेरे भाई-बहनों ने मदद की.’

हेल्थ समस्याओं ने किया परेशान
आभा ने बताया कि 35 की उम्र में उन्हें मसूड़ों का एक इन्फेक्शन हुआ, जिसके कारण उनके सारे दांत गिर गए. 45 की उम्र में उन्हें एक रेयर समस्या हो गई, जिससे उनके हाथ-पैर कांपने शुरू हो गए. लेकिन इसके बावजूद आभा ने नौकरी करना जारी रखा. 1991 में उन्होंने एक्टिंग छोड़ी और 2008 में, लखनऊ में थिएटर करना शुरू किया. मगर वो बहुत ज्यादा नाटकों में हिस्सा नहीं ले पाती थीं.

पहला बड़ा ब्रेक और मुंबई जाने का मौका
आभा ने बताया कि 2009 में उन्होंने एक टीवी ऐड के ऑडिशन का पता चला और उनके पहले ही ऑडिशन ने उन्हें मुंबई पहुंचा दिया. उन्होंने कहा कि वो सोच रही थीं’मुंबई जा तो रही हूं पर डायरेक्टर बोलेगा कि इससे काम नहीं हो पाएगा.’ आभा अपने पहले ऐड के लिए बहुत नर्वस थीं और सेट देखकर घबरा गई थीं. उन्होंने बताया, ‘मेरे साथ जो आदमी बैठा था वो भी ऐड का हिस्सा था, उसने कहा- ‘मैं बहुत नया हूं. प्लीज मेरे साथ कोऑपरेट कीजिएगा.’ मैंने कहा कि मैं तुमसे भी ज्यादा नई हूं, तुम भी मेरे साथ कोऑपरेट करना.’

आभा ने बताया कि जब डायरेक्टर ने शूट के बाद उनसे कहा कि ‘मां जी आप बहुत अच्छा कर रही हैं.’ तो उनके सारे डर दूर हो गए. जल्दी ही उन्हें दो बायोपिक, अर्जुन कपूर और परिणीति चोपड़ा की बायोपिक ‘इशकजादे’ और सुधीर मिश्रा की एक फिल्म में काम मिल गया.

आभा को ऐसे मिला ‘पंचायत 3’ में काम
2010 में आई फिल्म ‘पीपली लाइव’ में एक रोल के लिए आभा को बुलाया गया था. ‘पंचायत’ एक्टर रघुबीर यादव से उनकी पहली मुलाकात यहीं पर हुई थी. लेकिन अचानक तबीयत बिगड़ने से वो काम नहीं कर पाईं और ये रोल किसी और को दे दिया गया. उन्होंने बताया कि कोविड के बाद उनके साथ थिएटर कर चुके अनुराग शुक्ला शिवा ने उन्हें ‘पंचायत’ के लिए एक ऑडिशन वीडियो शूट करने को कहा. तबतक ‘वेब सीरीज’ का मतलब ना समझने वालीं आभा को, पॉपुलर वेब सीरीज ‘पंचायत’ में रोल मिल गया.

‘पंचायत 3’ के सेट पर आभा शर्मा
‘पंचायत 3’ के लिए 10 दिन शूट करने वालीं आभा ने बताया कि उनके सभी कोस्टार्स, डायरेक्टर और बाकी क्रू ने बहुत कोऑपरेट किया. मध्य प्रदेश की भीषण गर्मी में शूट करने को लेकर आभा ने कहा, ‘वहां यकीनन बहुत गर्मी थी और मेरे कुछ शॉट्स में मुझे ये महसूस भी हुआ, लेकिन मैं अपना शूट पूरा करने के लिए तैयार थी. मुझे ये अनुभव बहुत अच्छा लगा.’

आभा की एक्टिंग देखकर घबरा गए ‘पंचायत’ के डायरेक्टर
आभा ने बताया कि एक सीन उन्होंने इतना परफेक्ट किया कि डायरेक्टर घबरा गए थे. आभा ने बताया कि एक सीन के लिए उन्हें टैबलेट दी गई, जिसे खाने की एक्टिंग करनी थी. मगर उन्होंने इतनी रियल एक्टिंग की जिससे असिस्टेंट डायरेक्टर को लगा कि वो सच में टैबलेट खा गई हैं. आभा ने बताया, ‘उसने मुझसे पूछा ‘आपने सच में टैबलेट खा ली?’ मैंने कहा ‘नहीं ये रही तुम्हारी टैबलेट’, वो बहुत इम्प्रेस हुआ.’ आभा ने बताया कि डायरेक्टर ने उनकी तारीफ की और उन्हें सेट पर भी बहुत मजा आया.

54 साल तक अपने सपने को जीने का इंतजार करने वालीं आभा ने यंग जेनरेशन के लिए एक मैसेज देते हुए कहा, ‘अगर आप किसी भी चीज के लिए, जरा भी पैशनेट हैं, तो उसपर काम कीजिए. मैं आशा करती हूं कि ईश्वर हर आर्टिस्ट की वैसे ही मदद करेगा जैसे उसने मेरी की है.’ ‘पंचायत 3’ में सबका दिल जीत रहीं आभा शर्मा अब जल्द ही संजय मिश्रा और महिमा चौधरी की फिल्म दुर्गा प्रसाद की शादी में नजर आएंगी. उनके पास एक और प्रोजेक्ट है ‘कुंभ’ को अभी रिलीज होना है.