देवर से हलाला के बाद पति से निकाह, दोनों ने बनाये संबंध, हो गई प्रेग्नेंट तो मचा बवाल

इस खबर को शेयर करें

गोंडा। यूपी के गोंडा से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। जहां एक नवविवाहिता ने तीन तलाक के बाद देवर से हलाला कराकर पति से दोबारा निकाह के बाद भी दहेज के लिए उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है। पीड़िता का आरोप है कि पति ने उसका गर्भपात कराकर जबरन घर से निकाल दिया है। एएसपी पूर्वी के निर्देश पर पुलिस ने दहेज उत्पीड़न समेत कई गंभीर धाराओं में मामला दर्ज करके कार्रवाई में जुटी है।

खोड़ारे थाना क्षेत्र के कस्बा खास निवासी तसौव्वर का निकाह खोरहंसा क्षेत्र की लहने वाली एक युवती के साथ बीते साल हुआ था। पीड़िता ने एएसपी को दी तहरीर में आरोप लगाया है कि निकाह के बाद से ही पति, सास, ससुर, व अन्य परिजनों पर दहेज में एक लाख रुपए नगद व बाइक की मांग की जाने लगी। यही नहीं उसे घर में बंद कर मारने-पीटने लगे। मांग पूरी नहीं होने पर उसे तीन तलाक देकर घर से निकाल दिया गया। कुछ दिन बाद ससुर सुलह-समझौता कर घर में रखने को तैयार हो गए। इसके बाद हलाला के लिए देवर से निकाह करा दिया। बाद में उससे तलाक कराकर फिर से तसौव्वर से निकाह करा दिया गया। कुछ दिन बाद पता चला कि पति की पहले शादी हो चुकी है, उसके कई बच्चे भी हैं।

पीड़िता ने बताया कि जब विवाद होने लगा तो पति ने फिर से तलाक देकर मारपीट कर घर से निकाल दिया गया। आरोप है कि गौराचौकी स्थित एक प्राइवेट अस्पताल में ले जाकर पेट मे पल रहे डेढ़ माह के बच्चे का भी गर्भपात करा दिया। पीड़िता की शिकायत पर एसपी ने खोडारे पुलिस को कार्रवाई का निर्देश दिया। इस पर खोड़ारे पुलिस ने पीड़िता के तहरीर पर पति,सास-ससुर सहित छह लोगों पर दहेज उत्पीड़न, मुस्लिम महिला विवाह अधिकार सुरक्षा अधिनियम समेत कई गंभीर धाराओ मे मामला दर्ज कर लिया है। थाना प्रभारी मनोज पाठक ने बताया कि मामला दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई की जा रही है।