मुजफ्फरनगर आये अखिलेश ने जयंत चौधरी पर बोली बडी बात, कहाः मंत्री पद के लालच में…

इस खबर को शेयर करें

मुजफ्फरनगर। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि एनडीए में शामिल होने वाले कई दल ऐसे हैं, जो मंत्री पद मिलने का इंतजार कर रहे हैं, सबको दो मंत्री पद का भरोसा दिया गया है, लेकिन मिला किसी को नहीं है। जब मंत्री पद नहीं मिलेगा, तो वह नाराज होंगे और ऐसे दलों का सहयोग समाजवादी पार्टी लेगी।

गुरुवार को अखिलेश यादव मुजफ्फरनगर में मेरठ रोड स्थित होटल में आयोजित शादी समारोह में सम्मिलित होने पहुंचे। यहां पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि डबल इंजन और विश्व गुरु बनने का दावा करने वाली सरकार अमृत काल कहती है, तो किसान क्यों दुखी है, क्यों धरना दे रहा है और ट्रैक्टर ट्राली लेकर दिल्ली जा रहा है। पूर्व पीएम चौधरी चरण सिंह और एमएस स्वामीनाथन को भारत रत्न दिया, लेकिन किसानों को फसल का उचित दाम नहीं मिल रहा है।

उन्‍होंने कहा, मल्टीनेशनल कंपनियां बीज और अनाज खरीदने को लेकर दबाव बना रही हैं, सरकार को किसानों के लिए आगे आना चाहिए। एमएसपी की गारंटी किसानों के पक्ष की लड़ाई है। भारत रत्न देकर सरकार वोट लेना चाहती है तो किसानों की मांगे भी मानी जाएं।

यूपी पुलिस आरक्षी भर्ती परीक्षा को लेकर कहा कि, यह कैसी सरकार है, हर चीज लीक हो जाती है। ऐसी कोई परीक्षा नहीं, जिसमें पेपर लीक न हुआ हो। 50 लाख युवाओं के साथ धोखा हुआ है।

गठबंधन से रालोद अलग होने और कांग्रेस को 17 सीटें देने के सवाल पर कहा कि, हमने सात सीटें दी, लेकिन भाजपा से सिर्फ दो मिली हैं। कोई प्रत्याशी थोपा नहीं गया, सूची उन्होंने ही दी थी। मुजफ्फरनगर से रालोद अध्यक्ष के परिवार का कोई सदस्य चुनाव लड़ने की इच्छा जताता, तो हरेंद्र मलिक भी दावेदारी से हटने को तैयार थे। कांग्रेस को 17 सीटें देने के सवाल पर कहा कि रालोद ने अपनी सीटें छोड़ दीं, तो वह किसी को तो देनी ही थीं। कहा कि भाजपा के जितने भी सहयोगी दल हैं, चाहे निषाद पार्टी हो, या कोई दूसरा, सबको दो मंत्री बनाने का भरोसा दिया है। एक नया दल भाजपा के साथ जुड़ा है, उसे एक प्रदेश में और एक केंद्र में मंत्री बनाने का भरोसा दिया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बयान को लेकर कहा कि राष्ट्रवादी वह व्यक्ति होता है, जो किसान और आम जन के दुख को समझता है, सिर्फ भारत माता की जय बोलने और अग्निवीर के नाम पर युवाओं को धोखा देने वाले राष्ट्रवादी नहीं हो सकते हैं।

जय जवान-जय किसान का महत्व नहीं समझने वाले राष्ट्रवादी नहीं हैं। राजा भैय्या के गठबंधन में आने को लेकर कहा कि, जो आना चाहे, उसका स्वागत है। बसपा से गठबंधन में आने को लेकर कोई बात नहीं है। इस दौरान पूर्व सांसद हरेंद्र मलिक, विधायक आशु मलिक, पंकज मलिक, अतुल प्रधान कई सपा नेता उपस्थित रहे।

हेलीपैड पर कार्यकर्ताओं ने किया हंगामा
मेरठ रोड पर जब पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव अपने हेलीकाप्टर से हेलीपैड पर पहुंचे, तो सपा नेताओं और कार्यकर्ताओं में उनसे मिलने को होड़ मच गई। इस दौरान कुछ कार्यकर्ताओं ने हेलीपैड़ पर जाने से रोकने पर हंगामा कर दिया। आरोप लगाया कि जिलाध्यक्ष ने उनका नाम सूची में नहीं दिया। उधर, हेलीपैड पर भीड़ अधिक होने की वजह से चरथावल से सपा विधायक पंकज मलिक बैरिकेडिंग में ही खड़े रहे।

युवाओं ने सौंपा ज्ञापन
पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को हेलीपैड पर युवाओं ने ज्ञापन सौंपा। कहा कि प्रदेश में हुई पुलिस भर्ती परीक्षा का पेपर लीक होने से युवाओं का भारी नुकसान हुआ है। भर्ती परीक्षा को रद कराया जाए और दोबारा बगैर किसी शुल्क जमा कराए परीक्षा होनी चाहिए।