आते ही पति को पत्नी ने कमरे में कर लिया बंद, अंदर से आई ऐसी आवाजें, इकटठा हो गया पूरा मौहल्ला

As soon as the husband came, the wife locked her in the room, such voices came from inside, the whole neighborhood gathered
As soon as the husband came, the wife locked her in the room, such voices came from inside, the whole neighborhood gathered
इस खबर को शेयर करें

झांसी। उत्तर प्रदेश के झांसी में पत्नी ने लाठी से पीटकर पति की बेरहमी से हत्या कर दी। वह कमरा बंद करके करीब 10 मिनट तक पति को लाठी से पीटती रही। परिजनों के कहने पर भी कमरे का दरवाजा नहीं खोला। जब गांव वालों ने आकर उसे कसम दिलाई तब जाकर गेट खोला। इसके बाद पत्नी घायल पति को उठाने नहीं दे रही थी। किसी तरह गांव वालों ने उसे समझाकर घायल को उपचार के लिए मेडिकल कॉलेज ले गए। जहां इलाज के दौरान पति की मौत हो गई। पुलिस ने पत्नी को हिरासत में ले लिया है। उससे पूछताछ की जा रही है।

सात साल पहले दोनों ने खाईं थीं साथ जीने मरने की कसमें
झांसी जनपद के पूंछ थाना क्षेत्र के बाबई गांव निवासी पुष्पेंद्र अहिरवार पुत्र बृजलाल अहिरवार की शादी करीब सात साल पहले जालौन के मरगाय गांव निवासी रमाकांति से हुई थी। छोटे भाई राघवेंद्र सागर ने बताया कि बड़ा भाई पुष्पेंद्र शराब पीता था। इसको लेकर पत्नी के साथ उसका झगड़ा होता था। बुधवार रात करीब आठ बजे पुष्पेंद्र शराब पीकर आया था। इसी बात को लेकर उनका पत्नी के साथ झगड़ा हो गया।

महिला ने कुंडी बंद करके पति को बेरहमी से पीटा
घटना के समय छोटा भाई राघवेंद्र गांव में कहीं गया था। उसकी पत्नी रितू घर पर थी। रमाकांति ने कमरे की कुंडी बंद करके पति पुष्पेंद्र पर लाठी से ताबड़तोड़ वार किए। आवाज सुनकर देवरानी रितू ने गेट खोलने के लिए कहा तो उसने एक नहीं सुनी। सूचना पर छोटा भाई भी वहां पहुंच गया। आवाज सुनकर आसपास के लोग भी आ गए। करीब 10 मिनट बाद गेट खोला तो पुष्पेंद्र गंभीर अवस्था में पड़ा था। इसके बाद परिजन उसे मेडिकल कॉलेज ले गए। जहां इलाज के दौरान पुष्पेंद्र की गुरुवार सुबह मौत हो गई।

बीएड की पढ़ाई कर रहा था पुष्पेंद्र
पुष्पेंद्र बीएड की पढ़ाई कर रहा था। जबकि रमाकांति बीए पास है। पुष्पेंद्र के पिता मैनपुर में सरकारी टीचर है। मां रामकली की करीब सात साल पहले मौत हो चुकी है। पुष्पेंद्र की तीन शादीशुदा बहनें भी हैं। दोनों भाई और उनकी पत्नी गांव में रहती थीं। पति की मौत के बाद अब आरोपी पत्नी थाने में बैठकर रो रही है। पुष्पेंद्र की चार साल की एक बेटी काव्या है।