सावधान! अगर आप भी है इस बुरी आदत के शिकार तो आज ही छोड़ दें, बन सकती है मौत का कारण

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए नियमित दिनचर्या का होना बहुत जरुरी है. आज कल की भाग दौड़ में ना चाहते हुए भी खुश पल की खुशी के लिए हम अपने स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने से नहीं चूकते.

Attention If you are also a victim of this bad habit, then leave it today itself, it can become the cause of death.
Attention If you are also a victim of this bad habit, then leave it today itself, it can become the cause of death.
इस खबर को शेयर करें

Health Tips: शरीर को स्वस्थ रखने के लिए नियमित दिनचर्या का होना बहुत जरुरी है. आज कल की भाग दौड़ में ना चाहते हुए भी खुश पल की खुशी के लिए हम अपने स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने से नहीं चूकते. कई बार हम तनाव में आकर कुछ बुरी आदतों को अपने जीवन का हिस्सा बन लेते है इन्ही में से एक है सिगरेट पीना. धूम्रपान करना सेहत के लिए हानिकारक है इस बात को जानते हुए भी हम धूम्रपान करने लगते है. सिगरेट स्वास्थ्य के लिए बेहद हानिकारक है इसके सेवन से आपकी जान भी जा सकती है. आपको कई गंभीर बिमारियों के दर्द से गुजरना पड़ सकता है. इससे हृदय रोग और कैंसर का भी खतरा काफी बढ़ जाता है और इतना ही नहीं आपके साथ ही आपकी इस आदत का खामियाजा आपके अपनों को भी भुगतना पड़ सकता है. आजकल भारतीय युवाओं में धूम्रपान का खतरा काफी तेजी से बढ़ रहा है. आज इस लेख में हम आपको बतायेंगे की सिगरेट पीने से आप कौन कौनसी बीमारियों को अपनी बॉडी में निमंत्रण दे रहें हैं.

फेफड़ों को नुकसान
आप अगर सिगरेट का सेवन करते है और कुछ सीढ़ियां चढ़ने पर आपकी सांसें फूलने लगती है तो समझ जाइये की आपके फेफड़ों पर अतिरिक्त दबाव पड़ रहा है जो की बिल्कुल भी ठीक नहीं है. धूम्रपान की आदत न सिर्फ फेफड़ों को नुकसान पहुंचाती है बल्कि यह आदत पूरे शरीर के लिए हानिकारक है. फेफड़ों में होने वाले कैंसर के 90 फीसदी मामलों के लिए सिगरेट प्रमुख कारण है. महिला-पुरुष, दोनों के लिए ही सिगरेट हानिकारक है. श्वसन रोगों के अलावा शरीर के कई अन्य हिस्सों पर इसके गंभीर प्रभाव देखने को मिलते हैं.

हार्ट को नुकसान
धूम्रपान करने से हार्ट की समस्या सामने आने लगती है. धूम्रपान करने वाले लोगन में हार्ट अटैक का खतरा नार्मल लोगों से कई गुना जयादा होता है. सिगरेट में पाया जाने वाला निकोटीन रक्त वाहिकाओं में संकुचन का कारण बनता है, जो ब्लड सर्कुलेशन को बाधित करने लगता है. यह पेरिफेरल आर्टरी डिजीज का कारण बन सकता है. धूम्रपान करने वालों को ब्लड प्रेशर की समस्या भी होने लगती है जिससे हार्ट अटैक का खतरा ज्यादा होता है.

पेट में हो सकता है कैंसर
धूम्रपान करने वाले लोगों को पेट के कैंसर का खतरा अधिक रहता है. इतना ही नहीं धूम्रपान करने वाले लोगों में मुंह और गले के कैंसर का भी खतरा बढ़ जाता है. बता दें की धूम्रपान करने वालों में अग्नाशय के कैंसर के केस भी आजकल बहुत बढ़ गये है.

इंसुलिन का जोखिम
अगर आप डायबिटीज के मरीज है तो और धूम्रपान करते है तो आज ही छोड़ दीजिए. डायबटीज के मरीजों में धूम्रपान नेगेटीव रूप से इंसुलिन की संवेदनशीलता को प्रभावित करता है, जिसके कारण डायबिटीज का खतरा कई गुना बढ़ जाता है. धूम्रपान करने वाले लोगों की इम्युनिटी धीरे धीरे कम होने लगती है और उनका शरीर कई बिमारियों की गिरफ्त में आने लगता है.

स्ट्रोक का खतरा
ज्यादा धूम्रपान के कारण खून के थक्के बनने लगते है जिससे स्ट्रोक का खतरा सीधे तौर पर बढ़ जाता है. ऐसे में दिमाग में खून की आपूर्ति रूकने लगती है. इसके साथ ही धूम्रपान से दिमाग में खून पहुंचाने वाली धमनियों के फटने से एक प्रकार के हेम्रेज की स्थिति बन सकती है.