Bhadrapada Month 2022: भाद्रपद मास शुरू हो गया है, मुसीबतों से बचने के लिए एक महीने तक न करें यह अशुभ कार्य!

Bhado Maas 2022 Start End Date: भाद्रपद महीना 13 अगस्‍त 2022 से शुरू हो चुका है. यह महीना भगवान श्रीकृष्‍ण को समर्पित है. इस महीने जन्‍माष्‍टमी मनाई जाती है. वहीं भादो के महीने में कुछ अशुभ काम करने की सख्‍त मनाही की गई है.

Bhadrapada Month 2022: Bhadrapada month has started, to avoid troubles, do not do this inauspicious work for a month!
Bhadrapada Month 2022: Bhadrapada month has started, to avoid troubles, do not do this inauspicious work for a month!
इस खबर को शेयर करें

Bhado ka Mahina 2022: भादो का महीना भगवान की भक्ति करने का महीना है. इस महीने भगवान श्रीकृष्‍ण का जन्‍मोत्‍सव जन्‍माष्‍टमी मनाई जाती है. साथ ही 10 दिन का गणेशोत्‍सव भी भाद्रपद महीने में ही मनाया जाता है. साल 2022 में 13 अगस्‍त से भाद्रपद महीना शुरू हो चुका है और यह 10 सितंबर तक चलेगा. कई प्रमुख व्रत-त्‍योहार वाले इस महीने को लेकर धर्म-शास्‍त्रों में कुछ नियम बताए गए हैं. जिनका जरूर पालन करना चाहिए. इसके अलावा ज्‍योतिष में भी भादो के महीने में कुछ काम को वर्जित बताया गया है.

भाद्रपद मास में न करें ये काम
– भाद्रपद महीने में गुड़, दही और इनसे बनी चीजों का सेवन बिल्‍कुल नहीं करना चाहिए. ऐसा करना धर्म संगत भी नहीं है और इस दौरान इन चीजों के सेवन से बीमारियां भी होती हैं.

– भादो के महीने में लहसुन-प्‍याज, नॉनवेज-शराब जैसी तामसिक चीजों का सेवन बिल्‍कुल भी नहीं करना चाहिए. ऐसा करना जीवन में कई मुसीबतें लाता है. इसके उलट भाद्रपद मास में सादा जीवन जीना चाहिए और हो सके तो जमीन पर सोना चाहिए.

– इस महीने दान-पुण्‍य जरूर करें. वहीं दूसरों से कुछ चीजें मांगने से बचें. उदाहरण के लिए इस महीने दूसरों का दिया हुआ चावल न खाएं.

– भाद्रपद महीने के रविवार बहुत खास होते हैं. इस दौरान सूर्य की आराधना करने से आत्‍मविश्‍वास बढ़ता है, नौकरी-व्‍यापार में सफलता मिलती है. लिहाजा भादो के महीने के सभी रविवार को सूर्य को जल चढ़ाएं और नमक का सेवन न करें. साथ ही इस दौरान बाल न कटवाएं.