मुजफ्फरनगर में आने वाली है बडी मुसीबत, हड़ताल की तैयारी में सफाईकर्मी

नगरपालिका परिषद् के सफाई कर्मचारियों के हितों को लेकर सफाई कर्मचारी संघ ने पांच प्रमुख मांगों को उठाते हुए अधिशासी अधिकारी को नोटिस सौंपा है। मांग पूरी नहीं होने पर शहर में काम बंद करते हुए हड़ताल और प्रदर्शन की चेतावनी दी गयी है।

Big trouble is coming in Muzaffarnagar, sanitation workers preparing for strike
Big trouble is coming in Muzaffarnagar, sanitation workers preparing for strike
इस खबर को शेयर करें

मुजफ्फरनगर। नगरपालिका परिषद् के सफाई कर्मचारियों के हितों को लेकर सफाई कर्मचारी संघ ने पांच प्रमुख मांगों को उठाते हुए अधिशासी अधिकारी को नोटिस सौंपा है। मांग पूरी नहीं होने पर शहर में काम बंद करते हुए हड़ताल और प्रदर्शन की चेतावनी दी गयी है।

नगरपालिका परिषद् में अब सफाई कर्मचारी संघ ने कर्मचारियों की समस्याओं को उठाते हुए उनके हितोें से जुड़े मामलों का तत्काल निस्तारण करते हुए लाभान्वित करने की मांग रखी है। सफाई कर्मचारी संघ के कार्यकारी अध्यक्ष जितेन्द्र मचल और महामंत्री अरविन्द उर्फ सोनू मचल के नेतृत्व में संघ के पदाधिकारियों व सफाई कर्मचारियों के द्वारा गुरूवार को नगर पालिका परिषद् के सफाई कर्मचारियों की समस्याओं के निस्तारण के लिए अधिशासी अधिकारी हेमराज सिंह के नाम एक ज्ञापन दिया गया। इसमें मुख्य रूप से पांच मांगों को उठाया गया है।

सोनू मचल ने बताया कि पालिका में सफाई कर्मचारियों की समस्याओं के निस्तारण के लिए कोई काम नहीं किया जा रहा है। इसके लिए आज हमने कर्मचारियों के हितों के लिए पांच प्रमुख मांगों को लेकर ईओ को नोटिस दिया है। इनमें स्थाई व संविदा सफाई कर्मियों का 3 प्रतिशत एरियर का भुगतान कराने, ठेका सफाई कर्मियों के वेतन का भुगतान, सेवानिवृत्त सफाई कर्मियों का बीमा भुगतान और ऐसे सफाई कर्मचारियों का सेवानिवृत्ति के उपरांत उपादान का भुगतान कराने के साथ ही शहर के वार्डों में सफाई कर्मचारियों की उपस्थिति के लिए स्थल का निर्माण कराये जाने की मांग की गयी है। उन्होंने बताया कि यदि नगरपालिका के सफाई कर्मियों के हित में उक्त मांगों को लेकर कोई निर्णय नहीं लिया जाता है तो सफाई कर्मचारी संघ द्वारा काम बंद हड़ताल, धरना प्रदर्शन और भूख हड़ताल करने के लिए बाध्य होना पड़ेगा।