BREAKING: किसानों ने कर दिया बडा ऐलान, कल एक बार फिर पूरे देश में…

BREAKING: Farmers made a big announcement, tomorrow once again...
BREAKING: Farmers made a big announcement, tomorrow once again...
इस खबर को शेयर करें

केंद्र सरकार से बातचीत के बीच किसानों ने आज दिल्ली कूच का आह्वान किया है। किसानों का दिल्ली कूच करने की घोषणा के तहत संयुक्त किसान मोर्चा (गैर राजनीतिक) के नेता और सदस्य मंगलवार सुबह से ही शंभू और खनौरी बॉर्डर पर रणनीति बनाने में जुट गए।

संयुक्त किसान मोर्चा (गैर राजनीतिक) के सिद्धूपुर गुट की ओर से दिल्ली कूच के आह्वान पर हरियाणा से सटे शंभू और खनौरी बॉर्डर पर दिनभर स्थिति तनावपूर्ण बनी रही। जिला प्रशासन ने किसानों की केंद्रीय मंत्रियों के साथ बातचीत करवाई। इसके बीच ही किसान की मौत की खबर मिलने पर किसान नेता जगजीत सिंह डल्लेवाल ने कहा कि अब हालात का जायजा लेने के बाद ही वह आगे की रणनीति पर विचार करेंगे। किसान मजदूर संगठन के महासचिव सरवन सिंह पंढेर ने किसानों का दिल्ली कूच आंदोलन को दो दिन के लिए स्थगित करने की बात कही है।

किसानों की मांगों पर करें विचार: सुखबीर बादल
शिरोमणि अकाली दल के प्रधान सुखबीर बादल ने कहा कि केंद्र सरकार किसानों की मांगों पर विचार करें। वहीं आंदोलन के दौरान मारे गए नौजवान की मौत पर भी दुख व्यक्त किया। सुखबीर ने कहा कि मुख्यमंत्री भगवंत मान ने पंजाब के लोगों से वादा किया था कि पंजाब सरकार 22 फसलों पर एमएसपी देगी। पंजाब सरकार 22 फसलों पर एमएसपी लागू करें तो शिअद उनका स्वागत करेगा। पंजाब सरकार सत्र में इस एक्ट को पारित करें। शिअद के विधायक इसका समर्थन करेगे।

खनौरी बॉर्डर पर फिर बढ़ी हलचल
खनौरी बॉर्डर पर पचास मीटर पीछे ट्रैक्टर-ट्रालियां बैक लगाकर किसानों द्वारा बंद किया रास्ता, ताकि कोई आगे न जाए व किसी को कोई हरकत करने का मौका न मिले।

कल काला दिवस बनाने का लिया गया फैसला
किसान संगठनों ने कल यानी 23 फरवरी को काला दिवस बनाने का फैसला किया है। इस दिन केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, हरियाणा के मुख्य मंत्री मनोहर लाल खट्टर और गृह मंत्री अनिल विज के पुतले फूंके जाएंगे। वहीं, संयुक्त किसान मोर्चा 26 फरवरी को ट्रैक्टर मार्च निकालेगा इस दिन WTO का पुतला भी फूंका जाएगा।

अमित शाह और हरियाणा सीएम का फूकेंगे पुतला
किसान आंदोलन के दौरान मारे गए शुभकरण सिंह की मौत से किसानों का गुस्सा उबाल पर है। किसान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और हरियाणा मुख्यमंत्री मनोहर लाल के पूरे देश में पुतले फूंककर रोष व्यक्त करेंगे। उनकी मांग है कि इस मामले की न्यायिक जांच करवाई जाए और मृतक के परिजनों को मुआवजा दिया जाए

किसान नेता पंधेर बोले पंजाब सरकार केंद्र के खिलाफ हत्या का मामला करे दर्ज, अपना रुख भी करे साफ
किसान नेता सरवन सिंह पंधेर का कहना है कि जिस तरह से केंद्र ने हमारे क्षेत्र में घुसकर हमला किया। हमारे वाहनों में तोड़फोड़ की है। पंजाब सरकार को उनके खिलाफ 302 का मामला दर्ज करना चाहिए। हमारे पास सबूत हैं कि पंजाब सरकार ने हमारा लंगर बंद कर दिया और कल प्रदर्शन स्थल पर वाहन आ रहे हैं। पंजाब सरकार को अपना रुख स्पष्ट करना चाहिए कि उनका हमारे बारे में क्या रुख है।

खनौरी बॉर्डर पर जान गंवाने वाले किसान को बीकेयू नेता राकेश टिकैत ने बताया शहीद
भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत का कहना है कि आज किसानों के विरोध प्रदर्शन, पंजाब की सीमाओं पर हो रही घटनाओं और एमएसपी पर कानून पर एसकेएम (संयुक्त किसान मोर्चा) की बैठक है। उन्होंने कहा कि खनौरी बॉर्डर में एक किसान की जान चली गई। टिकैत ने पुलिस पर गोलीबारी का आरोप लगाया।

फाजिलका-फिरोजपुर रेलवे फ्लाईओवर जाम
फाजिल्का-फिरोजपुर रोड रेलवे फ्लाईओवर पर भारतीय किसान यूनियन कादिया द्वारा धरना शुरू कर दिया गया है। हालांकि किसानों ने केवल फ्लावर को जाम किया है, जबकि शहर के दोनों रास्ते खुले हुए हैं। जबकि बड़े वाहनों को पुलिस ने विभिन्न जगहों से रुट डाइवर्ट करके आगे की तरफ भेज दिया है।

कल शंभू बॉर्डर पर दिखी जवान-किसान के बीच तनातनी, आज पसरा सन्नाटा
कल शंभू बॉर्डर पर दिखी जवान-किसान के बीच तनातनी, आज पसरा सन्नाटा
कल शंभू बोर्डर पर जहां काफी की भारी तादाद में ट्रैक्टर और ट्रॉलियों की लंबी कतारें थी। तो वहीं आज यहां पर 25 फीसदी की कमी आई है।

भगवंत मान की वजह से पहले ‘सिद्धू मूसेवाला’ और अब शुभकरन की हुई मौत, अकाली दल का गंभीर आरोप
शिरोमणि अकाली दल के नेता व पूर्व कैबिनेट मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया ने आरोप लगाया है कि खनौरी बार्डर पर हुई शुभकरन सिंह की मौत के लिए मुख्यमंत्री भगवंत मान को जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कि 13 फरवरी को बार्डर पर जो हालात बने थे, उसी समय इस बात की आशंका थी कि कोई बड़ी घटना हो सकती है।

किसान नेता जगजीत सिंह डल्लेवाल की बिगड़ी तबीयत, अस्पताल में करवाया एडमिट
शंभू बॉर्डर पर किसान आंदोलन के दौरान तबीयत बिगड़ने के बाद जगजीत सिंह डल्लेवाल को राजिंदरा अस्पताल में दाखिल करवाया था। जहां से उपचार के बाद उन्हें अस्पताल के स्पेशल वार्ड में शिफ्ट कर दिया, यहां पर उनसे मिलने के लिए किसान नेताओं के अलावा लोकल स्तर के लोग पहुंचे हैं। गुरुवार दोपहर को उनसे मिलने किसान नेता सरवन सिंह पंधेर, सुरजीत सिंह फूल, मंजीत सिंह राय के अलावा अन्य नेता आए हैं, जो उनसे बात कर रहे हैं।

जालंधर-पठानकोट-जम्मू मार्ग में यातायात प्रभावित
गुरुवार को प्रदर्शनकारी किसानों ने बुधवार को अपने एक साथी की मौत के विरोध में धरना किया। नेशनल हाईवे पर लंबी दूरी तक ट्रैफिक जाम दिकाई दिया। लोग आसपास के गांव से होकर गुजर रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्र में भी ट्रैफिक व्यवस्था चरमराने की सूचना मिल रही है।