छत्तीसगढ़ः मोदी कैबिनेट में फेरबदल की अटकलें, इन नामों पर चर्चा

Share this news

रायपुर. केंद्रीय मंत्रीमंडल में फेरबदल की चर्चाओं के साथ छत्तीसगढ़ से संभावना तलाशी जा रही है. राजनीतिक गलियारों में बीजेपी सांसदों के नाम को लेकर चर्चा तेज है. जानकारों की मानें तो अगर केंद्रीय मंत्रीमंडल में फेरबदल होता है और छत्तीसगढ़ से नाम तय करना होगा तो सामान्य वर्ग से डॉ. सरोज पाण्डेय का नाम सबसे ऊपर है. साथ ही सामान्य वर्ग से ही संतोष पाण्डेय के नाम की भी चर्चा है. वहीं ओबीसी वर्ग से दुर्ग सांसद विजय बघेल तो अनुसूचित जाति वर्ग से गुहाराम अजगल्ले के नाम पर चर्चा हो रही है.

जबकि आदिवासी वर्ग से रेणुका सिंह पहले से ही केंद्रीय मंत्री की जिम्मेदारी संभाल रही हैं. मंत्री मंडल में प्रतिनिधित्व से सवाल पर एक तरफ जहां नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने इसे विशुद्ध रूप से केंद्र का मामला करार दिया तो वहीं सरकार के प्रवक्ता मंत्री ने तंज कसते हुए कहा कि रेणुका सिंह केंद्रीय मंत्री मंडल में हैं. मगर उनका होना और न होना एक ही बराबर है. साथ ही यह भी कहा कि अगर छत्तीसगढ़ से केंद्रीय मंत्रीमंडल में सांसदों को शामिल किया जाता है तो इससे प्रदेश का ही भला होगा.

इन नामों पर चर्चा क्यों

डॉ. सरोज पाण्डेय: छत्तीसगढ़ की तेजतर्रा नेत्री जो महापौर. लोकसभा सांसद रह चुकी है. वर्तमान में राज्यसभा सांसद है. बीजेपी केंद्रीय संगठन में राष्ट्रीय महामंत्री रह चुकी है. महाराष्ट्र राज्य की प्रभारी भी रह चुकी है.

संतोष पाण्डेय: राजनांदगांव से सांसद हैं युवा आयोग के अध्यक्ष भी रह चुके हैं. बेहतर प्रवक्ता और लोकसभा में बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं.

विजय बघेल: पहली बार लोकसभा चुनाव लड़े और छत्तीसगढ़ में सबसे ज्यादा वोटों से जीत कर लोकसभा तक पहुंचे हैं. पिछड़ा वर्ग के बड़े नेता के रूप में प्रदेश में बेहतर छवि मानी जाती है.

गुहाराम अजगल्ले: अनुसूचित जाति वर्ग का प्रतिनिधित्व करते हैं. बेहतर नेता और सामाजिक पकड़ के कारण केंद्रीय नेतृत्व के नजर में हैं.