मुजफ्फरनगर में शिक्षा जन जागरूकता अभियान में बच्चों ने दिखाई प्रतिभा

आज जनपद मुज़फ्फरनगर के पुरकाज़ी ब्लॉक में उच्च प्राथमिक विद्यालय जय भगवानपुर गावँ में एक्शनएड इंडिया एवं यूनिसेफ के सहयोग से शिक्षा जन जागरूकता अभियान के तहत विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किया गए।

Children showed talent in education public awareness campaign in Muzaffarnagar
Children showed talent in education public awareness campaign in Muzaffarnagar
इस खबर को शेयर करें

मुजफ्फरनगर। आज जनपद मुज़फ्फरनगर के पुरकाज़ी ब्लॉक में उच्च प्राथमिक विद्यालय जय भगवानपुर गावँ में एक्शनएड इंडिया एवं यूनिसेफ के सहयोग से शिक्षा जन जागरूकता अभियान के तहत विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किया गए। जिसमें बच्चो के लिए समान एवँ गुणवत्तापूर्ण शिक्षा सुनिश्चित करने, बच्चो के सर्वांगीण विकास एवं भेदभाव रहित सुरक्षित माहौल बनाने संस्था प्रयासरत है।

एक्शन ऐड़ इंडिया के जिला समन्वयक क़मर इंतेख़ाब ने बताया कि संस्था विगत 5 वर्षो से शिक्षा के मुद्दे पर समुदाय, एसएमसी व स्कूलों के साथ मिलकर कार्य कर रही है। जिसमे मौसमी पलायन करने वाले, ड्राप ऑउट एवं ऑउट ऑफ बच्चों के चिन्हाकन उनके नामांकन कराने में बेसिक शिक्षा विभाग के साथ मिलकर कार्य कर रही है। इसी के अंतर्गत आज उच्च प्राथमिक स्कूल जय भगवानपुर में मीना मंच और छात्रों के साथ चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है। जिसमे छात्रों को संस्था की तरफ से मैडल पहनाकर सम्मानित किया गया है। संस्था का उद्देश्य है कि ज़िले में कोई भी बच्चा शिक्षा से वंचित न हो। इसके लिए ज़रूरी है कि समुदाय, प्रधानों, अभिभावकों एवं विद्यालय प्रबन्ध समिति के बीच बेहतर तालमेल बने जिससे कि हम मॉडल स्कूलों का निर्माण कर सके।

खंड सहायक अधिकारी वसीम अहमद ने कहा कि आज अत्यंत आवश्यक है कि हम सभी को मिलकर बच्चो की शिक्षा पर धयान देना चाहिए। शिक्षा विभाग की तरफ से ऑउट ऑफ स्कूल बच्चो का घर घर जकर चिन्हाकन किया जा रहा है। साथ ही विद्यालयों को बेहतर करने के प्रयास हो रहे है।

ग्राम प्रधान ज़ुबैर त्यागी ने कहा कि हमें खुशी है कि यूनिसेफ़ और एक्शनएड संस्था ने हमारे गांव के स्कूल में कार्यक्रम करके बच्चो का हौसला बढ़ाया है। हम स्कूल विकास और सामाजिक सुरक्षा योजना से जोड़ने में अभिभावकों का हर सम्भव सहयोग करेंगे।

अंत मे एक्शनएड के सह ज़िला समन्वयक शिदा हुसैन ने सभी नागरिकों को धन्यवाद देते हुए बाल श्रम एवं बाल विवाह पर जागरूक किया। कार्यक्रम में अध्यापक हेमलता शर्मा, विजेता, आज़ाद तोमर जी और समुदाय के लोग उपस्थित रहे।