क्रिकेटर हार्दिक पांड्या ने बदली बिहार के गरीब लड़के की किस्मत, रातों-रात बना करोड़पति

बिहार के आरा के रहने वाले सौरभ कुमार की किस्मत अचानक बदल गई और वह रातों-रात करोड़पति बन गया। लेकिन इसके पीछे की वजह क्रिकेटर हार्दिक पांड्या रहे। दरअसल, छात्रों को ट्यूशन पढ़ाने वाला सौरभ दो साल से ऑनलाइन क्रिकेट गेमिंग में किस्मत आजमा रहा था।

Cricketer Hardik Pandya changed the fate of poor boy of Bihar, became a millionaire overnight
Cricketer Hardik Pandya changed the fate of poor boy of Bihar, became a millionaire overnight
इस खबर को शेयर करें

पटना: बिहार के आरा के रहने वाले सौरभ कुमार की किस्मत अचानक बदल गई और वह रातों-रात करोड़पति बन गया। लेकिन इसके पीछे की वजह क्रिकेटर हार्दिक पांड्या रहे। दरअसल, छात्रों को ट्यूशन पढ़ाने वाला सौरभ दो साल से ऑनलाइन क्रिकेट गेमिंग में किस्मत आजमा रहा था। इसी तरह उसने भारत और ऑस्ट्रेलिया मैच में भी टीम बनाई जो कि उसकी जिंदगी के लिए टर्निंग प्वॉइंट साबित हुई। सौरभ के परिवार में खुशी का ठिकाना नहीं रहा। लोग जश्न मना रहे हैं। वहीं इस सफलता के लिए सौरभ ने अपने माता-पिता को श्रेय दिया।

जीत के बाद टैक्स काटकर 70 लाख रुपये आए
जीत के नोटिफिकेशन के बाद सौरभ ने जब अकाउंट चेक किया तो उनके अकाउंट में 70 लाख रुपए आ चुके थे। आरा जिले के चरपोखरी प्रखंड के ठकुरी गांव के सौरभ कुमार लंबे समय से ऑनलाइन क्रिकेट गेम में टीम बनाकर पैसा लगा रहा था।

हार्दिक पांड्या ने खोली किस्मत
सौरभ ने बताया कि मंगलवार शाम ऑनलाइन गेमिंग के दौरान वह भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया के टी20 सीरीज के मैच में भारत टीम के खिलाड़ी बल्लेबाज सूर्य कुमार यादव, केएल राहुल, अक्षर पटेल, हार्दिक पांड्या, गेंदबाज उमेश यादव और ऑस्ट्रेलिया टीम के खिलाड़ी विकेटकीपर एम. एस स्मिथ, टी डेविड, सी ग्रीन, गेंदबाज जे हेजली ऑड और नाथन इल्स के बेहतर प्रदर्शन पर अपनी किस्मत आजमाई थी। लेकिन हार्दिक पांड्या की शानदार बल्लेबाजी ने उसकी किस्मत बदल दी। मैच खत्म होने के बाद उनके पास एक करोड़ रुपये जीतने का मैसेज आया। एक करोड़ रुपए जीतकर सौरव बेहद खुश है। उसने बताया कि उनके खाते में करीब 70 लाख रुपये आ चुके हैं। करीब 30 लाख रुपये टैक्स के रूप में काटे गए हैं। गांव के युवाओं के एक करोड़ रुपये जीतने की चर्चा पूरे गांव और जिले में हो रही है।

लंबे समय से कोशिश कर रहा था सौरभ
सौरभ ने बताया कि साल 2019 से वह ऑनलाइन गेमिंग ऐप पर टीम बना रहा है। इसमें वह कई बार हजारों रुपये जीत-हार चुका है। बता दें कि सौरभ ग्रेजुएशन की पढ़ाई कर रहा है। पढ़ाई के साथ-साथ उन्हें क्रिकेट में भी काफी दिलचस्पी है।

यूजर आईडी जय कंस ब्रह्म बाबा के नाम से
चारपोखरी प्रखंड के ठकुरी गांव निवासी विंकटेश सिंह के पुत्र सौरभ कुमार ने गेमिंग एप पर दूसरे नाम से अपना यूजर आईडी बनाया है। सौरभ ने बताया कि उन्होंने जय कंस ब्रह्म बाबा के नाम से अपनी यूजर आईडी बनाई है। भारत और ऑस्ट्रेलिया के मैच के बाद के लीडरबोर्ड को गेमिंग एप पर जाकर देखा जा सकता है, जिसमें सौरभ जय कंस ब्रह्म बाबा के नाम पहले स्थान पर है और पुरस्कार राशि भी एक करोड़ लिखी हुई है।