कांग्रेस MP धीरज साहू ने चुनाव आयोग से बोला झूठ? हलफनामे में सिर्फ 27 लाख, ठिकानों पर मिला 300 करोड़ कैश

Did Congress MP Dheeraj Sahu lie to the Election Commission? Only Rs 27 lakh in affidavit, Rs 300 crore cash found at locations
Did Congress MP Dheeraj Sahu lie to the Election Commission? Only Rs 27 lakh in affidavit, Rs 300 crore cash found at locations
इस खबर को शेयर करें

रांची: कांग्रेस के राज्यसभा सांसद धीरज प्रसाद साहू इन दिनों खजाने की वजह से चर्चा में हैं। उनके घर और ठिकानों से कुबेर का इतना खजाना मिला है कि आयकर विभाग तीन दिन बीतने के बाद भी गिन नहीं पाया है। शनिवार को चौथे दिन नोटों की गिनती खत्म हो सकती है। नोटों से भरी अलमारी मिलने के बाद सियासी बयानबाजी भी तेज हो गई है। वहीं यह तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। अपने नेता के बचाव में पार्टी का कहना है कि साहू का करोड़ों का कारोबार है।

अकूत दौलत के मालिक साहू 2010 से कांग्रेस के झारखंड से राज्यसभा सांसद हैं। उनके ठिकानों से बेशक आयकर विभाग को छापेमारी में अबतक 300 करोड़ से ज्यादा पैसे मिले हों लेकिन चुनाव आयोग को राज्यसभा चुनाव के दौरान दिए हलफनामे में धीरज साहू ने बताया था कि उनके पास 15 लाख कैश है, जबकि उनकी पत्नी व आश्रितों को मिलाकर पूरे परिवार के पास महज 27.50 लाख नकद हैं। वहीं, उनके व उनके आश्रितों के खातों में कुल 8 करोड़ 59 लाख 24106 रुपये जमा थे।

ईडी भी कर सकती है कार्रवाई

कांग्रेस के राज्यसभा सांसद धीरज साहू के खिलाफ आयकर के बाद ईडी भी कार्रवाई कर सकती है। सूत्रों के मुताबिक, धीरज व संबंधित शराब कंपनियों के खिलाफ प्रेडिकेट ऑफेंस की पड़ताल करने का निर्देश ओडिशा ईडी जोनल ऑफिस को दिया गया है। अंदेशा है कि छतीसगढ़ चुनाव के बाद इन पैसों को एक जगह जमा रखा गया था। हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हो पायी है। एजेंसियां इस पहलू पर पड़ताल कर रही हैं।

तीन दिनों से जारी है नोटों की गिनती

आयकर विभाग को रेड में अथाह कैश बरामद हुआ है। जब्त किए गए पैसों की गिनती में बैंक स्टाफ के साथ 30 से ज्यादा अधिकारी शामिल हैं। नोटों को गिनने के लिए आठ से मशीनों का उपयोग किया जा रहा है। जानकारी है कि मशीनों की संख्या बढ़ाई जा सकती है। विभाग को रकम बलांगीर जिले में बौध डिस्टिलरी प्राइवेट लिमिटेड के परिसर से अलमारियों के अंदर मिली है। इसके अलावा ओडिशा के संबलपुर और सुंदरगढ़, झारखंड के बोकारो और रांची में भी रेड की गई है।