आदर्श उत्तराखंड के लिए होगा विचार-विमर्श, दूसरे राज्यों के अच्छे मॉडल को अपनाएंगे

उत्तराखंड को जब 25 वर्ष पूरे होंगे, उस समय राज्य आदर्श स्थिति में हो, इसे लेकर शिविर में मंथन होगा। सीएम धामी ने कहा कि सरकार की कार्यप्रणाली में क्या-क्या सुधार और बदलाव किए जा सकते हैं इस संबंध में शिविर में चर्चा होगी।

Discussion will be held for ideal Uttarakhand, will adopt good model of other states
Discussion will be held for ideal Uttarakhand, will adopt good model of other states
इस खबर को शेयर करें

देहरादून। उत्तराखंड को जब 25 वर्ष पूरे होंगे, उस समय राज्य आदर्श स्थिति में हो, इसे लेकर शिविर में मंथन होगा। सीएम धामी ने कहा कि सरकार की कार्यप्रणाली में क्या-क्या सुधार और बदलाव किए जा सकते हैं इस संबंध में शिविर में चर्चा होगी।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि 2025 तक उत्तराखंड को आदर्श राज्य बनाने के लिए दूसरे राज्यों के अच्छे मॉडल को अपनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि 29 सितंबर से सरकार मंथन शिविर आयोजित करने जा रही है, जिसमें मंत्रियों और अफसरों के बीच आदर्श और सशक्त उत्तराखंड 2025 को लेकर विचार-विमर्श होगा।

राज्य सचिवालय में मीडियाकर्मियों से बातचीत के दौरान सीएम ने कहा कि उत्तराखंड को जब 25 वर्ष पूरे होंगे, उस समय राज्य आदर्श स्थिति में हो, इसे लेकर शिविर में मंथन होगा। तीन दिन के इस मंथन शिविर में राज्य की जीडीपी को दोगुना करने, राज्य की आय को बढ़ाने, सरकार की कार्यप्रणाली में क्या-क्या सुधार और बदलाव किए जा सकते हैं इस संबंध में चर्चा होगी।

दूसरे राज्यों के अच्छे मॉडल को उत्तराखंड में कैसे उपयोग में लाया जा सकता है, इस बारे में भी मंत्री और अधिकारी विचार-विमर्श करेंगे। बता दें कि 29 सितंबर से प्रस्तावित यह मंथन शिविर नैनीताल जिले के रामनगर में होगा। अभी कार्यक्रम स्थल का चयन नहीं किया गया है।

मंथन शिविर में शासन में तैनात सभी प्रमुख अधिकारी, विभागों के अध्यक्ष, जिलाधिकारी शामिल होंगे। इनमें से कुछ अफसर आदर्श उत्तराखंड के लिए एक विकास मॉडल भी प्रस्तुत करेंगे। कार्यक्रम में नीति आयोग के सीईओ व देश के ख्यातिलब्ध विशेषज्ञों को भी व्याख्यान के लिए बुलाया जाएगा।