हिमाचल में काली कमाई करने वाली शराब फैक्ट्री पर ED की करवाई, करोड़ो की संपत्ति जब्त

ED takes action against liquor factory making black money in Himachal, property worth crores seized
ED takes action against liquor factory making black money in Himachal, property worth crores seized
इस खबर को शेयर करें

नालागढ़ : हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh ) में केंद्रीय प्रवर्तन निदेशालय (Central Enforcement Directorate) ने एक बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। ED ने सोलन जिले के नालागढ़ सहित शराब बनाने वाली कालाअंब डिस्टलरी एंड ब्रेवरी प्राइवेट फैक्ट्री (Kalaamb Distillery and Brewery Private Factory) की चल-अचल संपत्ति को जब्त कर लिया है। बताया जा रहा है कि कंपनी की नालागढ़ के अलावा अरुणाचल प्रदेश में भी फैक्ट्री चल रही थी। ED ने कुल 9.31 करोड़ रुपये की चल-अचल संपत्ति जब्त किया है। ED द्वारा की गई इस कार्रवाई से नालागढ़ क्षेत्र में हड़कंप मचा हुआ है।

दरअसल, कंपनी पर आरोप है कि यहां बनी शराब को बिहार में बेचा जा रहा है। जिस कारण उद्योगपति को करोड़ों रुपयों का धनशोधन किया। केंद्रीय प्रवर्तन निदेशालय ने “एक्स” पर बताया कि नालागढ़ में मेसर्ज कालाअंब डिस्टलरी एंड ब्रेवरी प्राइवेट लिमिटेड की 5.31 करोड़ की संपत्ति जब्त की गई है। इसके अलावा चार करोड़ की संपत्ति अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) के हालोंगी गांव में जब्त की गई है। यह संपत्ति दोर्जी फुट्सो ख्रीमे के नाम पर दर्ज कराई गई थी। दोनों स्थानों पर कंपनी की 22,504 वर्ग मीटर भूमि जब्त किया गया है।

ईडी द्वारा जब बिहार में शराब आपूर्ति करने वाली शराब फैक्ट्री का पता लगाया तो पता चला कि हिमाचल प्रदेश के नालागढ़ में स्थित कालाअंब डिस्टिलरी एंड ब्रेवरी प्राइवेट लिमिटेड द्वारा यहां अवैध तरीके से शराब बेची जा रही है।