एशिया के सबसे बड़े भागीरथ इलेक्ट्रिक मार्केट में लगी भीषण आग, कई दुकानें राख

Fire at Old Delhi's Electronic Market देश ही नहीं, बल्कि एशिया की सबसे बड़ी इलेक्ट्रिक मार्केट में शुमार चांदनी चौक के भगीरथ पैलेस मार्केट में लगी भीषण आग लगातार दूसरे दिन भी नहीं बुझाई जा सकी है।

Fierce fire broke out in Asia's largest Bhagirath Electric Market, many shops burnt to ashes
Fierce fire broke out in Asia's largest Bhagirath Electric Market, many shops burnt to ashes
इस खबर को शेयर करें

नई दिल्ली। Fire at Old Delhi’s Electronic Market देश ही नहीं, बल्कि एशिया की सबसे बड़ी इलेक्ट्रिक मार्केट में शुमार चांदनी चौक के भगीरथ पैलेस मार्केट में लगी भीषण आग लगातार दूसरे दिन भी नहीं बुझाई जा सकी है। शुक्रवार सुबह भी यहां की दुकानों में लगी आग को बुझाने का काम जारी है। इस बीच मिली जानकारी के मुताबिक, कई दुकानें जलकर राख हो गईं और लाखों का नुकसान होने का अंदेशा जताया जा रहा है। वहीं, दिल्ली दमकल विभाग के मुखिया अतुल गर्ग के मुताबिक, भगीरथ पैलेस मार्केट बिल्डिंग का अधिकतर हिस्सा क्षतिग्रस्त हो चुका है। इमाारत बहुत नुकसान पहुंचा है।

30 से अधिक गाड़ियां बुझा रहीं आग
बृहस्पतिवार रात को भगीरथ पैलेस इलेक्ट्रिक मार्केट में लगी आग की खबर पर दिल्ली दमकल विभाग की गाड़ियों को मौके पर भेजा गया। वहीं, भीषण आग के मद्देनजर धीरे-धीरे दमकल की गाड़ियों की संख्या बढ़ती रही। मिली जानकारी के मुताबिक, 30 से अधिक गाड़ियां आग बुझाने में जुटीं, लेकिन शुक्रवार सुबह तक आग पर काबू नहीं पाया जा सका है। आग बुझाने का काम शुक्रवार सुबह 8 बजे के बाद भी जारी है।

रातभर अफरातफरी का माहौल
आग लगने के बाद दुकानदारों में भी हड़कंप मच गया। अफरातफरी के बीच दुकानदार परेशान नजर आए, क्योंकि आग की चपेट में लगातार एक के बाद एक दुकानें आती जा रही थीं। शुक्रवार रात को 9 बजे के भगीरथ पैलेस इलेक्ट्रिक मार्केट में चारों तरफ धुआं ही धुआं नजर आया। आग की लपटें दूर-दूर तक नजर आ रही थीं। यह भी जानकारी मिली है कि भगीरथ पैलेस इमारात का एक हिस्सा देर रात ढह गया।

हालात के मद्देनजर पुलिस और दमकल विभाग के वरिष्ठ अधिकारी भी मौके पर मौजूद हैं। दिल्ली अग्निशमन विभाग के निदेशक अतुल गर्ग के मुताबिक, भीषण आग लगी है और यहां पर अभी हालात ठीक नहीं हैं। आग पर काबू पाने का प्रयास जारी है और इमारत का बड़ा हिस्सा नष्ट हो चुका है। बड़ा आर्थिक नुकसान भी हुआ है।

बताया जा रहा है कि दिल्ली दमकल विभाग के 150 से अधिक जवान देर रात तक आग पर काबू पाने में जुटे हैं और संख्या बढ़ाई गई है। वहीं, पुलिस का कहना था कि आग के इस भीषण हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ है, लेकिन दुकानदारों को बड़ा आर्थिक नुकसान जरूर हुआ है।