उत्तराखंड में दिन-दहाड़े गैंगवार: युवक की बेरहमी से हत्या, बदमाशों ने सिर में मारी गोली

बदमाश के सिर पर धारदार हथियार और गोली के निशान हैं। बताया जा रहा है कि तीन दिन पहले मृतक के खिलाफ दूसरे गैंग के सुरेश राणा को बंधक बनाकर उस पर जानलेवा हमला करने का मुकदमा दर्ज हुआ था।

Gang war in broad daylight in Uttarakhand: Youth brutally murdered, miscreants shot in the head
Gang war in broad daylight in Uttarakhand: Youth brutally murdered, miscreants shot in the head
इस खबर को शेयर करें

भगवानपुर: बदमाश के सिर पर धारदार हथियार और गोली के निशान हैं। बताया जा रहा है कि तीन दिन पहले मृतक के खिलाफ दूसरे गैंग के सुरेश राणा को बंधक बनाकर उस पर जानलेवा हमला करने का मुकदमा दर्ज हुआ था। अब हालिया गैंगवार की घटना को तीन दिन पहले मृतक पर दर्ज हुए केस के बदले से जोड़कर देखा जा रहा है। घटना भगवानपुर के प्रेमराजपुर गांव की है। शुक्रवार दोपहर दो बजे गैंगस्टर दीपक सैनी का साथी कुणाल फौजी उर्फ बाबू निवासी सुनहरा (25) अपने कुछ साथियों के साथ खड़ा था। इसी दौरान बाइकों पर सवार होकर करीब छह युवक वहां पर आए। इन्होंने आते ही बाबू और उसके साथियों पर धारदार हथियारों से हमला कर दिया। बाबू के सिर पर धारदार हथियार से वार किया गया। घटना के बाद बदमाश वहां से फरार हो गए।

आननफानन में बाबू का दोस्त सन्नी त्यागी उसे लेकर अस्पताल पहुंचा। जहां पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। बाबू के सिर में धारदार हथियार से चोट के गहरे निशान के साथ ही गोली का निशान भी मिला है। जिससे उसके सिर में गोली मारे जाने की भी आशंका है। पुलिस के अनुसार भगवानपुर थाना क्षेत्र के प्रेमराजपुर गांव निवासी गैंगस्टर दीपक सैनी का करौंदी गांव निवासी रोहित राणा से वर्चस्व को लेकर विवाद चल रहा है। 20 जून को रुड़की गंगनहर कोतवाली क्षेत्र में करौंदी निवासी सुरेश राणा को बंधक बनाकर दीपक सैनी गैंग ने हमला किया था। जिसमें सुरेश राणा बुरी तरह से घायल हो गए थे। इस मामले में गंगनहर कोतवाली में दीपक सैनी और मृतक बाबू समेत आठ पर मुकदमा दर्ज हुआ था। अब बाबू की हत्या को सुरेश राणा पर हुए हमले के बदले से जोड़कर देखा जा रहा है। थाना प्रभारी निरीक्षक अमरजीत सिंह ने बताया कि हमलावरों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास जारी हैं।