‘ज्ञानवापी हमारा है, तुम्हारे 56 टुकड़े कर देंगे’, अब इस भाजपा नेता को मिली ‘सर तन से जुदा’ की धमकी

उत्तर प्रदेश के वाराणसी के ज्ञानवापी मस्जिद मामले को लेकर फेसबुक पर कमेंट करने पर अलवर की भाजपा की महिला कार्यकर्ता चारुल अग्रवाल को धमकी दी गई है। चारुल के साथ उदयपुर जैसी घटना को अंजाम देने की धमकी दी गई है। महिला कार्यकर्ता अलवर के शालीमार आवास योजना एक्सटेंशन में टॉवर नंबर 3 में रहती हैं।

'Gyanvapi is ours, will cut you into 56 pieces', now this BJP leader received the threat of 'separate from his head'
'Gyanvapi is ours, will cut you into 56 pieces', now this BJP leader received the threat of 'separate from his head'
इस खबर को शेयर करें

अलवर: उत्तर प्रदेश के वाराणसी के ज्ञानवापी मस्जिद मामले को लेकर फेसबुक पर कमेंट करने पर अलवर की भाजपा की महिला कार्यकर्ता चारुल अग्रवाल को धमकी दी गई है। चारुल के साथ उदयपुर जैसी घटना को अंजाम देने की धमकी दी गई है। महिला कार्यकर्ता अलवर के शालीमार आवास योजना एक्सटेंशन में टॉवर नंबर 3 में रहती हैं।

सोमवार प्रातः 7.45 बजे चारुल अग्रवाल बच्चों को विद्यालय छोड़ने के लिए फ्लैट के बाहर निकलीं तो खिड़की के पास चिट्ठी मिली। चिट्ठी में उसे जान से मारने की धमकी देते हुए कहा है कि 25 सितंबर अंतिम दिनांक है। पति जितेंद्र अग्रवाल ने लिफ्ट के समीप खिड़की में फंसे लिफाफे को उठाया। इसमें एक चिट्ठी थी, जिसे खोलकर पढ़ा तो होश उड़ गए। चारुल के नाम से धमकी दी गई थी, लिखा था- ज्ञानवापी हमारा है, हमारा ही रहेगा, हमारे मजहब को लेकर पोस्ट लिखोगी तो वही हाल होगा जो उदयपुर में कन्हैयालाल का हुआ था, ध्यान रख गुस्ताख ए रसूल की एक सजा, सर तन से जुदा।

वही इस बारे में भाजपा नेता चारुल अग्रवाल ने बताया, ‘इसमें मेरा नाम लेकर लिखा था कि तुम्हारे 56 टुकड़े कर देंगे, उदयपुर जैसी हालत करेंगे, मुझे जान से मारने की धमकी दी, मैंने ज्ञानवापी को लेकर सामान्य पोस्ट डाला था, घर में दो बच्चे और पति हैं, हम लोग उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद से हैं, 6 वर्षों से अलवर में रह रहे हैं।’ चारुल ने 13 सितम्बर को फेसबुक पर ज्ञानवापी को लेकर पोस्ट डाली थी। तत्पश्चात, 19 सितंबर को उन्हें जान से मारने की धमकी मिली तथा 25 सितंबर को अंतिम दिनांक बताया गया। उनके पति जितेंद्र अग्रवाल मत्स्य इंडस्ट्रियल एरिया में नौकरी करते थे। हाल ही में उन्होंने एक फैक्ट्री डालकर स्टार्टअप आरम्भ किया है। चारुल तीन वर्षों से भाजपा से जुड़ी हुई हैं। वह भाजपा में ‘बेटी बचाओ। बेटी पढ़ाओ’ अभियान की प्रदेश सह संयोजक हैं। घटना के पश्चात् चारुल अग्रवाल ने एसपी तेजस्विनी गौतम को खबर देकर सुरक्षा की मांग की। सदर पुलिस CCTV से प्राप्त हुए फुटेज के आधार पर तहकीकात कर रही है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।