हरेंद्र मलिक ने संजीव बालियान को भ्रष्टाचार के आरोपो पर दी ऐसी सलाह, सब हैरान

Harendra Malik exposed the threads of corruption allegations against Sanjeev Baliyan and gave this advice
Harendra Malik exposed the threads of corruption allegations against Sanjeev Baliyan and gave this advice
इस खबर को शेयर करें

मुजफ्फरनगर. पश्चिम उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी के दो दिग्गज नेता ठाकुर संगीत सोम और संजीव बालियान के विवाद दिन-ब-दिन बढ़ते जा रहे हैं जो राजनीतिक गलियारों में भी खासा चर्चा का विषय बने हुए हैं. आपको बता दें कि हाल ही में संगीत सोम की एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में संजीव बालियान के विरुद्ध बांटे गए पर्चों को लेकर अब मुजफ्फरनगर सांसद हरेंद्र मलिक का भी एक बयान सामने आया है जिसने उन्होंने कहा है कि इस मामले की सीबीआई जांच होनी चाहिए. हरेंद्र मलिक का कहना है कि संजीव बालियान पर गलत आरोप लगाए गए हैं उनके करियर पर कोश्चन मार्क लग गया है इसलिए संजीव बालियान को इसकी सीबीआई जांच करानी चाहिए जिससे कि दूध का दूध और पानी का पानी हो सके.

हरेंद्र मलिक ने कहा कि देखिए ऐसा है आपस में राजनीतिक लोगों को लड़ना नहीं चाहिए व स्थिरता बना कर रखना चाहिए और मैं उनसे अनुरोध करूंगा तो मैं तो यह दोनों से अनुरोध करूंगा यह जानते हुए कि वह बड़े नेता है क्योंकि वह हमारी मांनेगे तो है नहीं लेकिन आपस में प्यार से रहें एवं ना लगे तो अच्छा है और जहां तक पत्र की बात है मुझे उसकी जानकारी नहीं पहले यह बताओ कौन सा पत्र है, आरोप जैसे भी हो पर वह चिट्ठी तो है.

आरोप गंभीर हैं तो इसकी सीधी सीआईडी जांच करा लें
सांसद मलिक ने कहा कि ऐसा ही प्रकरण एक बार मेरे सामने आया था जब मैं इस कमेटी का अध्यक्ष था तो उसमें हम लोगों ने तों यह कहा था कि यद्यपि मान्य सदस्य ने अपने द्वारा पत्र को अपने द्वारा हस्ताक्षर न किया जाना बताया परंतु मामला गंभीर है एवं आरोप गंभीर हैं तो इसकी सीधी सीआईडी जांच कर ली जाए क्योंकि यह केंद्र सरकार का मामला है अगर कोई पत्र ऐसा है और मान लिया संजीव बालियान जी पर झूठे आरोप लगाए हैं तो इस पत्र की सीबीआई जांच करा दो उस दूध का दूध एवं पानी का पानी हो जाएगा और जो पत्र है वह किसका है या किसका नहीं है वह अलग मैटर है पर जो आरोप है उनकी जांच करानी चाहिए और सीबीआई जांच करानी चाहिए.

फर्जी आरोप हो तो खुद को जांच के लिए हाजिर कर देना चाहिए
सांसद मलिक ने कहा कि राजनीतिक जीवन एवं सामाजिक जीवन में आदमी रहता है उसे पर फर्जी आरोप लगाए तो अपने आप को जांच के लिए प्रस्तुत कर देना चाहिए, देखो भाई मुझे चुनाव लड़ रहा है अखिलेश यादव ने व कांग्रेस ने और समाजवादी पार्टी के साथियों ने साथ ही जो मेरे पुराने साथी हैं. उन्होंने मुझे चुनाव लड़वाया है एवं संगीत सोम अगर मुझे चुनाव लड़वाता एवं हमारी समाजवादी पार्टी 18000 से ज्यादा वोटों से वहां जीती थी और आज हम वहां कुल 47 वोट से जीते हैं और वहां एमएलए हमारे हैं तो अगर संगीत सोम मेरी मदद करता तो निश्चित रूप से हमारी जीत 30000 वोटो से ज्यादा से होती.

बड़ा मन दिखाएं और बातों को सड़क पर नहीं आना चाहिए
सांसद हरेंद्र मलिक ने कहा कि नेताओं को और अपराधियों को अलग-अलग व्यवहार करना होगा एवं आप राजनीतिक होंगे तो आपका व्यवहार भी राजनीतिक होना चाहिए तो इनमें से किसी को बड़ा मन दिखाना चाहिए और यह बात सड़क पर नहीं आनी चाहिए और जहां तक पत्र की बात है इसकी सीबीआई जांच कर दें. पता चल जाएगा की किसने साइन किए, यह किसने बांटा है और आरोप क्या है भाई सही गलत तो पता लगना चाहिए क्योंकि अगले के कैरियर पर क्वेश्चन मार्क लग गया और हमें तो यह लगता है कि संजीव बालियान जी पर गलत आरोप लगाए गए इसलिए इसकी संजीव बालियान जी को सीबीआई जांच करानी चाहिए ताकि पता चल जाए सही क्या है एवं गलत क्या है.