हरियाणा विजिलेंस टीम ने कॉन्स्टेबल और रिटायर्ड डीएसपी को रिश्वत लेते रंगे हाथों किया गिरफ्तार

सोनीपत. हरियाणा विजिलेंस की सोनीपत टीम ने राजस्थान पुलिस के कॉन्स्टेबल व एक रिटायर्ड डीएसपी को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. दोनों के रहने वाले एक युवक से एक मुकदमे में उसका नाम हटाने के लिए काफी लंबे समय से रिश्वत की मांग कर रहे थे. आज दोनों को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा, ताकि दोनों से पूछताछ की जा सके.

इस खबर को शेयर करें

सोनीपत. हरियाणा विजिलेंस की सोनीपत टीम ने राजस्थान पुलिस के कॉन्स्टेबल व एक रिटायर्ड डीएसपी को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. दोनों के रहने वाले एक युवक से एक मुकदमे में उसका नाम हटाने के लिए काफी लंबे समय से रिश्वत की मांग कर रहे थे. आज दोनों को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा, ताकि दोनों से पूछताछ की जा सके.

सोनीपत के ओमेक्स सिटी के रहने वाले मनीष भारद्वाज के अनुसार, जयपुर के रहने वाले हवाला कारोबारी इनके साथ मिलकर मेरे से 20 लाख रुपए मांग रहे थे. ये करीब 15 लाख रुपए यह मेरे से ले कर जा चुके हैं. मुझे ये लोग डरा रहे थे कि तुझे झूठे मुकदमे में फंसा देंगे. इन्होंने जयपुर के रहने वाले एक हवाला कारोबारी के साथ मिलकर मुझ पर एक झूठा मुकदमा भी दर्ज कर लिया.

डीएसपी शैलेंद्र सिंह व एसएचओ के रीडर दशरथ सिंह ने मुझे डराया था कि अगर पैसे नहीं दिए तो मुझे गिरफ्तार कर लेंगे. दोनों की मैंने शिकायत कर दी थी, जिसके बाद यह दोनों रिश्वत लेने यहां पहुंचे तो विजिलेंस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया. बता दें कि गिरफ्तार राजस्थान पुलिस का रिटायर्ड डीएसपी शैलेन्द्र सिंह व जयपुर के चित्रकूट थाने के एसएचओ का रीडर कांस्टेबल दशरथ सिंह है.