हरियाणा: गैंगवार में युवक की तलवार और लाठियों से हमला कर हत्या, दोस्त की हालत गंभीर

इस खबर को शेयर करें

चरखी दादरी. हरियाणा के चरखी दादरी में बस स्टैंड के सामने एक होटल में खाना खा रहे दो युवकों पर दर्जनभर से अधिक लोगों ने लाठी डंडों और धारदार हथियारों से हमला कर दिया. वारदात में एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दूसरा साथी गंभीर रूप से घायल हुआ है. उसे इलाज के लिए रोहतक पीजीआई रेफर कर दिया गया है.

बताया जा रहा है कि गैंगवार और रंजिश के चलते बीती रात बदमाशों ने होटल पर खाना खा रहे दो युवकों पर हमला किया था. इस वारदात में दादरी के वार्ड 13 के रहने वाले आकाश की मौके पर ही मौत हो गई. उसके साथी राहुल को गंभीर हालत में रोहतक पीजीआई रेफर किया गया है.

सीसीटीवी में कैद हुई पूरी वारदात

हमले और मर्डर की पूरी वारदात सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गई. वहीं, परिजनों ने सिविल अस्पताल में पहुंचकर हंगामा किया और आरोपियों की गिरफ्तारी तक शव लेने से मना कर दिया. सिटी थाना पुलिस ने मामले में दस नामजद और पांच-छह अन्य के खिलाफ हत्या सहित विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया है. मामले के खुलासे के लिए पुलिस की चार टीमें बनाई गई हैं, जो आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए कई जगहों पर दबिश दे रही हैं.

सिविल अस्पताल में पहुंचे मृतक के परिजन अजय सैनी, हवा सिंह ने इस घटना के बारे में पुलिस को जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि सैनीगंज मोहल्ला का रहने वाला आकाश अपने साथी राहुल के साथ चरखी दादरी बस स्टैंड के सामने पूर्ण मार्केट के पास बीती रात एक होटल पर खाना खा रहा था.

तलवार और तेजधार हथियारों से किया हमला

उसी दौरान दर्जनभर से अधिक लोग वहां पहुंचे, जिन्होंने तलवार और दूसरे तेजधार हथियारों से उन पर हमला कर दिया. इस दौरान आरोपियों ने सुनील उर्फ आकाश को मौत के घाट उतार दिया, जबकि उसके साथी राहुल को गंभीर रूप से घायल कर दिया. राहुल को प्राथमिक उपचार देने के बाद रोहतक पीजीआई रेफर किया गया है.

6 बहनों के बीच इकलौता भाई था आकाश

परिजनों का आरोप है कि गैंगवार और रंजिश के चलते हमलावरों ने वारदात को अंजाम दिया है. उन्होंने बताया कि कुछ समय पहले आकाश के पिता की मौत हो चुकी है. वह छह बहनों का इकलौता भाई था. उसकी मौत के बाद घर में उसकी बुजुर्ग बीमार मां अकेली बची है. आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी कर उसे न्याय मिलना चाहिए. सिविल अस्पताल पहुंचे मृतक के परिजनों में आकाश की मौत के बाद से रोष है. उन्होंने आरोपियों की गिरफ्तारी से पहले शव लेने से मना कर दिया है.

आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए बनाई 4 टीमें

सूचना मिलने पर सिटी थाना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मुआयना किया. सिटी थाना एसएचओ रमेश कुमार ने बताया कि इसके बाद सिविल अस्पताल पहुंचकर मृतक के परिजनों से बात की और उन्हें उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया. उन्होंने कहा कि जल्द ही आरोपियों की गिरफ्तारी की जाएगी. एसएचओ रमेश ने कहा कि पुलिस की चार टीमें आरोपियों की तलाश में जुटी हुई हैं. जल्द ही आरोपियों की गिरफ्तारी की जाएगी.