खतौली में जमकर मतदान, मुस्लिमों को वोट न डालने देने का आरोप, ईवीएम खराब, एजेंट के पास मिला मोबाइल, देंखे विस्तार से

यूपी की मुजफ्फरनगर की खतौली सीट पर वोटिंग जारी है। 11 बजे तक 20.7% मतदान हुआ है। यहां 170 मतदान केंद्रों पर 3 लाख मतदाताओं को सत्ता का सिरमौर चुनना है।

Heavy voting in Khatauli, allegation of not allowing Muslims to vote, EVM defective, mobile found with agent, see detail
Heavy voting in Khatauli, allegation of not allowing Muslims to vote, EVM defective, mobile found with agent, see detail
इस खबर को शेयर करें

मुजफ्फरनगर। यूपी की मुजफ्फरनगर की खतौली सीट पर वोटिंग जारी है। 11 बजे तक 20.7% मतदान हुआ है। यहां 170 मतदान केंद्रों पर 3 लाख मतदाताओं को सत्ता का सिरमौर चुनना है। वोटिंग के दौरान सपा नेताओं ने पुलिस पर पक्षपात के आरोप लगाए हैं।

पार्टी ने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से चुनाव आयोग को ट्वीट किया है कि सीओ खतौली भाजपा के एजेंट के रूप में काम कर रहे हैं। मुस्लिम मतदाताओं को उनका आधार कार्ड देखकर डांटकर भगा रहे हैं। सपा ने इन सीओ को सस्पेंड करने की मांग रखी है। इसका एक वीडियो भी जारी किया गया है।

वहीं, खतौली के नावला में एक ईवीएम मशीन खराब थी। जिसकी सूचना पर एसपी सिटी और एडीएम ई ने मौके पर पहुंचकर ईवीएम मशीन को बदलवाया। दोबारा से मतदान शुरू कराया गया है। नावला मतदान केंद्र पर ही एक एजेंट के पास मोबाइल मिला।

रतनपुरी इलाके के घनश्यामपुरा में मतदान शुरु होते ही ईवीएम मशीन खराब हुई थी। मशीन बदलने के बाद भी वोटिंग शुरू नहीं हो सकी। करीब 45 मिनट बाद यहां दोबारा वोटिंग शुरू हो सकी। इसके अतिरिक्त, खतौली के रामनगर बूथ नंबर 250 पर भी ईवीएम खराब होने से करीब 1 घंटे वोटिंग रुकी रही। सुबह 9 बजे तक 6.9% वोटिंग हुई थी।

खतौली विधानसभा सीट पर मतदान शुरू होने के कुछ देर बाद ही सपा के सरधना से विधायक अतुल प्रधान ने ट्वीट कर एक वीडियो लोगों से शेयर किया है। जिसमें सीओ खतौली राकेश कुमार सिंह को एक मतदाता का आइकार्ड चेक करते दिखाया गया है। इस वीडियो के साथ विधायक अतुल प्रधान ने लिखा है कि खतौली सीओ राकेश कुमार सिंह आधार कार्ड लेकर आए वोटर्स को डांटकर वापस भेज रहे हैं। आयोग के निर्देशों के अनुसार आधार कार्ड भी आईडी का कार्य करेगा। उन्होंने अपनी शिकायत चुनाव आयोग, एडीजी मेरठ जोन और समाजवादी पार्टी सहित रालोद मुखिया जयंत चौधरी से भी की है।

समाजवादी पार्टी ने भी ट्वीट कर लगाए गंभीर आरोप
इसके कुछ देर बाद ही सपा के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से भी एक शिकायत चुनाव आयोग को की गई है। जिसमें खतौली उप चुनाव का जिक्र करते हुए सीओ राकेश कुमार सिंह को भाजपा का एजेंट कहा गया है। आरोप है कि सीओ खतौली चुनाव में भाजपा के एजेंट के रूप में कार्य कर रहे हैं। यह भी आरोप लगाया कि वह मुस्लिम मतदाताओं को डांटकर वापस भगा रहे हैं। चुनाव आयोग को की गई शिकायत के साथ ही मांग की गई कि सीओ को सस्पेंड किया जाए।

भाजपा और सपा-रालोद के प्रत्याशी में कांटे की टक्कर
खतौली विधानसभा उप चुनाव में भाजपा और सपा-रालोद गठबंधन के बीच कांटे की टक्कर है। पूर्व व‍िधायक विक्रम सैनी की सदस्यता रद्द होने के बाद खतौली सीट पर उप चुनाव हो रहे हैं। बीजेपी ने विक्रम सिंह सैनी की पत्नी राजकुमारी सैनी को मैदान में उतारा है। बीजेपी एक बार फिर खतौली सीट पर जीत का दावा कर रही है। कांग्रेस व बसपा के प्रत्याशी मैदान में न होने से रालोद और बीजेपी में सीधी टक्कर है।

खतौली विधानसभा सीट पर उपचुनाव का मतदान चल रहा है। इस बीच बीजेपी प्रत्याशी राजकुमारी सैनी ने जंधेड़ी पोलिंग बूथ पर पहुंचकर अपने मत का प्रयोग किया इस दौरान उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि विकास के लिए काम करा है, और विकास के लिए ही जनता के बीच जा रहे हैं। बीजेपी प्रत्याशी राजकुमार सैनी ने कहा कि विधायक बनने के बाद क्षेत्र में विकास करेंगे और बहन बेटियों का सम्मान करेंगे उन्होंने कहा कि उनके पक्ष में लगातार माहौल बनता नजर आ रहा है। साथ ही उन्होंने जीत का दम भरते हुए कहा कि उनकी जीत 50 हजार वोटों से होगी।