‘मैं कुछ नहीं जानता, मुझे परमात्मा ने कहा था’, बिहार में राहुल गांधी ने तो गजब कर दिया

इस खबर को शेयर करें

पटना: बिहार में चुनावी रैली के दौरान राहुल गांधी के निशाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रहे। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि ‘4 जून के बाद अगर ईडी वाले मोदी से सवाल करेंगे तो वो कहेंगे, मैं कुछ नहीं जानता… मुझे परमात्मा ने कहा था।’ इसके साथ ही राहुल ने दावा किया कि विपक्षी गठबंधन इंडिया सत्ता में आई तो सेना में अल्पकालिक भर्ती की अग्निपथ योजना को रद्द कर दिया जाएगा। हर महिला के खाते में प्रति माह 8,500 रुपए जमा किए जाएंगे। बख्तियारपुर (पटना साहिब लोकसभा सीट) और पालीगंज (पाटलिपुत्र लोकसभा सीट) में महागठबंधन प्रत्याशियों के पक्ष में चुनावी रैलियों को उन्होंने संबोधित किया। राहुल ने दोहराया कि नरेंद्र मोदी फिर से प्रधानमंत्री नहीं बन पाएंगे क्योंकि देश भर में विपक्षी गठबंधन के पक्ष में स्पष्ट लहर है।

अग्निपथ योजना को बंद करने का राहुल ने दिया भरोसा
राहुल गांधी ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी-जीएसटी लागू करके रोजगार के रास्ते बंद किए और सेना में अग्निपथ योजना लागू करके जवानों को मजदूर बना दिया । 4 जून को जब इंडिया गठबंधन की सरकार बनेगी तो अग्निपथ योजना को रद्दकर हम कूड़ेदान में फेंकने जा रहे हैं। ये नरेंद्र मोदी की योजना है, सेना इस योजना को नहीं चाहती है, ये ऊपर से थोपी गई है। हमारा पहला काम अग्निपथ योजना को रद्दकर कूड़ेदान में फेंकने का होगा।

कांग्रेस नेता के मुताबिक हम दो तरीके के शहीद नहीं चाहते। अग्निपथ योजना जवान को शहीद का दर्जा नहीं देगी और जो सामान्य तरीके से जवान बनेगा जो अफसर होगा, उसे शहीद का दर्जा मिलेगा। अग्निवीर को पेंशन नहीं मिलेगी, दूसरे जवान को पेंशन मिलेगी। अग्निवीर को कैंटीन नहीं मिलेगी, दूसरे जवान को कैंटीन मिलेगी। ये अन्याय हम नहीं चाहते इसलिए अग्निपथ योजना को हम रद्द करने जा रहे हैं, खत्म करने जा रहे हैं। जैसे पहले होता था, वैसे ही हम एक बार फिर बिहार के युवाओं के लिए, बाकी प्रदेशों के युवाओं के लिए सेना में स्थायी पेंशन वाली योजना चलाएंगे। जैसे पहले होता था वैसे ही होगा।

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने 2022 में अग्निपथ योजना का ऐलान किया था, जिसके तहत सेना के लिए युवा सैनिकों की भर्ती चार साल के लिए करने का प्रावधान है। चार वर्षीय अनुबंध पूरा होने पर 75 फीसदी युवा सैनिकों की सेवा समाप्त कर दी जाएगी और शेष 25 फीसदी को ही आगे रखा जाएगा।

महिलाओं के खाते में हर महीने साढ़े 8 हजार देने का वादा
राहुल गांधी ने ये भी कहा कि केंद्र में इंडिया गठबंधन की सरकार बनने के बाद जुलाई से महिलाओं के खाते में हर महीने 8,500 रुपए जमा किए जाएंगे जिससे हर परिवार की आर्थिक स्थिति बदल जाएगी। प्रधानमंत्री के ‘परमात्मा द्वारा भेजे जाने’ संबंधी कथित बयान पर कटाक्ष करते हुए कांग्रेस नेता ने कहा, ‘चार जून के बाद अगर भ्रष्टाचार के बारे में प्रवर्तन निदेशालय मोदी से सवाल करेगा तो वह कहेंगे, मैं कुछ नहीं जानता… मुझे परमात्मा ने कहा था।’

कांग्रेस नेता ने आगे कहा कि मोदी ने 22 अरबपति बनाए हैं, वे (कांग्रेस) करोड़ों लखपति बनाएंगे। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी पर अपने अरबपति दोस्तों का 16 लाख करोड़ रुपए का कर्ज माफ करने का आरोप लगाया और कहा कि देश इसके लिए उन्हें कभी माफ नहीं करेगा। उन्होंने दावा किया कि मोदी ने गरीबों से पैसा छीनकर औद्योगिक घरानों को दे दिया, जिन्होंने विदेशों में निवेश किया। उन्होंने कहा, ‘ये चुनाव देश को बचाने, लोकतंत्र को बचाने और गरीबों के आरक्षण को बचाने के लिए है।’

पटना साहिब और पाटलिपुत्र सीट पर 1 जून को मतदान
चुनावी सभाओं को राजद नेता तेजस्वी यादव, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी-लेनिनवादी) लिबरेशन के महासचिव दीपांकर भट्टाचार्य, विकासशील इंसान पार्टी के प्रमुख मुकेश सहनी ने भी संबोधित किया। कांग्रेस नेता अंशुल अभिजीत जहां पटना साहिब लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं, वहीं राजद नेता मीसा भारती पाटलिपुत्र संसदीय क्षेत्र से महागठबंधन की उम्मीदवार हैं। कांग्रेस नेता राहुल गांधी राज्य के आरा लोकसभा क्षेत्र में महागठबंधन के उम्मीदवार के पक्ष में एक और रैली को संबोधित करने वाले हैं। पटना साहिब, पाटलिपुत्र और आरा सहित बिहार की बाकी बची कुल आठ लोकसभा सीटों पर एक जून को मतदान होगा।