Omicron वेरिएंट के 6 लक्षण दिखें तो तुरंत करवाएं कोरोना टेस्ट, आवाज फटना पहला संकेत!

इस खबर को शेयर करें

कोरोना वायरस ने दुनियाभर में फिर से अपना कहर दिखाना शुरू कर दिया है। पिछले 2 साल से पूरी दुनिया इस महामारी से जूझ रही है। इस बार वह ओमिक्रॉन वैरिएंट के खतरनाक रूप में सामना आ रहा है जिससे जुड़े संक्रमण के केस लगातार बढ़ते जा रहे हैं। वहीं भारत में भी इस वेरिएंट से जुड़े लोगों की संख्या 500 पार कर चुकी है। भारत में लोगों ने 2 लहरों का सामना किया पहली साल 2020 में और दूसरी 2021 में। अब तीसरी लहर ओमिक्रॉन से जुड़े केस भी दिनों-दिन बढ़ते जा रहे हैं। शुरूआती लक्षणों की बात करें तो यह लक्षण डेल्टा वेरिएंट से बिलकुल अलग है।

डॉक्टर्स के अनुसार, ओमिक्रॉन के मरीजों को ऐसा लग रहा है जैसे कि गले में कुछ चुभ रहा हो। यूके, दक्षिण अफ्रीका और अमेरिका की रिपोर्ट्स के मुताबिक, बहती नाक, बंद नाक, सिर दर्द, थकान, छींक आना, रात में पसीना और शरीर में दर्द होना जैसेअन्य शुरुआती लक्षण सामने आ रहे हैं।

चलिए आपको ओमिक्रॉन से जुड़े, महसूस होने वाले कुछ लक्षणों के बारे में बताते हैं।
1. सर्दी जुकाम यानि कफ की समस्या जो सामान्य लक्षण है। कोविड वैक्सीनेटिड लोग जो ओमिक्रॉन वायरस की चपेट में आए उनमें यह लक्षण आम देखने को मिल रहे हैं।

2. गले में कर्कश, फटी-फटी आवाज या गला बैठा महसूस हो सकता है। गले में चुभन की शुरूआत हो सकती है। एक्सपर्ट्स के अनुसार, ये ओमिक्रॉन के पहले लक्षणों में से एक है।

3. नाक बंद होना, बहना या छींके आना, इसका आम लक्षण है इसलिए टेस्ट जरूर करवाएं।

4. ओमिक्रॉन वेरियंट से ग्रस्त मरीज को थकान महसूस होती है। शरीर टूटने जैसा आभास होता है। मांसपेशियों में दर्द रहती हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, मसल्स पेन के लक्षणों के बाद किए टेस्टों में 58 प्रतिशत लोग नए वेरिएंट से ग्रस्त पाए गए हैं।

5. सिरदर्द, होने के कई कारण हो सकते है लेकिन इस महामारी के दौरान अगर सिरदर्द की समस्या है तो टेस्ट जरूर करवाएं।

6. किसी भी बीमारी में बुखार होना सबसे आम लक्षण होता है। कोरोना के लक्षणों में भी बुखार आना सामान्य लक्षण है इसलिए ऐसा कोई लक्षण सामने आने पर टेस्ट जरूर करवाएँ।

क्या कहते हैं हैल्थ एक्सपर्ट्स?
अगर आप अस्वस्थ महसूस करते हैं तो बिना देरी कोरोना के RT-PCR टेस्ट करा लें। कुछ एक्सपर्ट्स का कहना है कि अगर आपमें कोरोना के कोई भी लक्षण हैं और आपका टेस्ट भले ही नेगेटिव आता हो तो भी खुद को आइसोलेट जरूर करें।