डाक्टर की बीवी के जिम ट्रेनर से हो गये अवैध संबंध, कांड से दहला इलाका, 8 महीने में 1100 बार…

Illegal relationship with doctor wife gym trainer, area shocked by the scandal, 1100 times in 8 months...
Illegal relationship with doctor wife gym trainer, area shocked by the scandal, 1100 times in 8 months...
इस खबर को शेयर करें

पटना: कदमकुआं थाने के ज्ञान गंगा स्थित लोहा सिंह रोड के पास घात लगाये तीन अपराधियों ने एक जिम ट्रेनर को दिनदहाड़े गोली मार दी. घायल जिम ट्रेनर ने शहर के चर्चित डॉक्टर और उनकी पत्नी पर गोली चलवाने का आरोप लगाया है. पुलिस ने डॉक्टर दंपती को हिरासत में ले लिया है.

बाइक सवार तीन अपराधियों ने मारी गोली

घटना शनिवार की सुबह साढ़े छह बजे हुई. जिम ट्रेनर 30 वर्षीय बिक्रम सिंह राजपूत उस वक्त पटना मार्केट के पास सिटी जिम के लिए निकले थे. उसी दौरान बाइक सवार तीन अपराधियों ने बिक्रम पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी. पांच गोलियां लगने के बाद घायल बिक्रम ने कुछ देर तक लोगों का इंतजार किया, लेकिन आसपास किसी के नहीं होने के बाद वह खुद उठे और स्कूटी चलाकर पहले एक प्राइवेट अस्पताल पहुंचे. वहां इलाज नहीं मिलने पर पीएमसीएच गये.

घटनास्थल पर पहुंची पुलिस

गोली चलने की सूचना मिलते ही घटनास्थल पर सिटी एसपी सेंट्रल, डीएसपी टाउन समेत कदमकुआं थाने की पुलिस पहुंची. इस मामले में पुलिस इस्ट बोरिंग केनाल रोड स्थित पंचमुखी मंदिर के पास सांईं हेल्थ केयर वेलनेस सेंटर के संचालक डॉ राजीव कुमार सिंह और उसकी पत्नी खुशबू सिंह को हिरासत में लिया है.

पाटलिपुत्र थाने में देर रात एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा

सिटी एसपी सेंट्रल राहुल अंबरीष, एएसपी काम्या मिश्रा समेत कदमकुआं थानाध्यक्ष बिमलेंदु उनसे पूछताछ करते रहे. पुलिस ने घायल बिक्रम सिंह राजपूत के बयान पर डॉक्टर दंपती के खिलाफ एफआइआर दर्ज कर ली है.

मां और पत्नी ने भी सुनी गोली चलने की आवाज

मां मुन्नी देवी और बिक्रम की पत्नी वर्षा सिंह ने बताया कि सुबह साढ़े छह बजे बिक्रम अपनी स्कूटी से रोज की तरह जिम के लिए निकले थे. कुछ ही देर बाद गोलियां चलने की आवाज आयी. हमें लगा इतनी सुबह कौन गोली चला रहा है, लेकिन फिर थोड़ी देर में मेरे परिचित एक नर्स ने पीएमसीएच से फोन कर बताया कि बिक्रम को गोली मार दी गयी है और वे पीएमसीएच में भर्ती हैं. उन्हें पांच गोलियां मारी गयी हैं, जिनमें दो गोलियां पैर में, एक-एक कमर, बाह और पेट में लगी है.

सुपारी किलर्स की भूमिका का शक

पुलिस को शक है कि बिक्रम की हत्या करवाने के लिए सुपारी किलर्स की मदद ली गयी है. पटना पुलिस ने जब इसकी पड़ताल शुरू की, तो वजह बहुत चौंकाने वाली सामने आयी. पुलिस सूत्रों के अनुसार फिजियोथेरेपिस्ट की पत्नी खुशबू सिंह और जिम ट्रेनर के बीच बहुत अच्छी जान-पहचान थी. इस बात की जानकारी जब डॉ राजीव कुमार सिंह को हुई, तो उन्होंने बिक्रम को धमकी देनी शुरू की. इस वजह से खुशबू से बिक्रम दूरी बनाने लगे थे.

खुशबू और बिक्रम के बीच साढ़े आठ महीने में 1100 बार बातचीत

पुलिस ने जिम ट्रेनर के मोबाइल का जब कॉल डिटेल्स खंगाला, तो पता चला कि खुशबू और बिक्रम के बीच साढ़े आठ महीने में 1100 बार बातचीत हुई है. दोनों देर रात भी बात करते थे. 18 अप्रैल को डॉ राजीव ने भी बिक्रम से बातचीत की थी. संभवत: उसी दिन उन्होंने बिक्रम को धमकी दी थी.