मुजफ्फरनगर में डॉक्टर ने नशीली दवा खिलाकर महिला मरीज से कई बार किया बलात्कार

इस खबर को शेयर करें

मुजफ्फरनगर। मरीजों का इलाज करने वाले चिकित्सक भगवान का रूप माने जाते हैं, किन्तु कुछ कांमांध चिकित्सक मरीजों पर ही कहर बनकर टूट पडते हैं।

आपको बता दें कि चिकित्सक ने दवा लेने आई विवाहित को नशीली दवा देकर उसके साथ बलात्कार किया। आरोप है कि चिकित्सक विवाहिता को नशीला दवा देकर उसके साथ लगातार रेप करता रहा, जिससे विवाहिता गर्भवत हो गई। पति को विवाहिता के गर्भवती होने का पता चला, तो उसने विवाहिता को घर से निकाल दिया।

आरोपी चिकित्सक ने पीडि़ता को किराए का मकान दिला दिया और वहां भी उसके साथ रेप करता रहा। पीडि़ता ने चिकित्सक द्वारा दी गई दवा खानी बंद कर दी, तो उसे अपने साथ हुई ज्यादती का अहसास हुआ आर उसने आरोपी चिकित्सक के विरुद्ध सिविल लाइन थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने आरोपी चिकित्सक को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने पीडि़ता के गर्भ में पल रहे बच्चे के पिता का पता लगाने के लिए आरोपी का डीएनए टेस्ट कराया है।

मिली जानकारी के अनुसार सिविल लाईन थाना क्षेत्र के मौहल्ला केवलपुरी में मुजम्मिल क्लीनिक है, जिसका संचालक मुजम्मिल है। क्षेत्र के एक मौहल्ला निवासी विवाहिता ने सिविल लाइन थाने पर दर्ज कराई गई रिपोर्ट में बताया कि बीमारी के चलते वह डा. मुजम्मिल के पास दवा लेने गई थी।

आरोप है कि डाक्टर ने उसे नशीली दवा देकर उसके साथ बलात्कार किया। यह भी आरोप है कि डाक्टर उसे दवा देने के नाम पर हर दूसरे दिन बुलाता था और उसे नशीली दवा खिलाकर उसके साथ रेप करता था। डाक्टर की दवा खाने से वह अपनी सुध-बुध खो बैठी और डाक्टर के लगातार रेप करने से वह गर्भवती हो गई। उसके गर्भवती होने का पता जब उसके पति को चला, तो उसने उसे छोड़ दिया।

आरोप है कि डाक्टर ने उसे किराए का मकान दिला दिया, वहां भी वह उसके साथ रेप करता रहा। उसने डाक्टर द्वारा दी जा रही दवा खानी बंद की, तो उसकी सुध बुध वापस आई। पुलिस ने पीडि़ता की तहरीर पर आरोपी डाक्टर मुजम्मिल के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपी को जेल भेजने से पहले पीडि़ता के बच्चे के पिता का पता लगाने के लिए आरोपी का डीएनए टेस्ट भी कराया है।