मुजफ्फरनगर में छुरी से बाप ने ही रेत डाला बेटी का गला, बोलाः कई बार मना किया ऐसा काम मत कर

इस खबर को शेयर करें

मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर जनपद के नई मंडी थाना क्षेत्र में गुरुवार सुबह एक पिता ने अपनी ही बेटी को अपने हाथों से गला रेतकर मौत के घाट उतार दिया। घटना से इलाके में सनसनी फैल गई। हर कोई युवती के खून से लथपथ पड़े शव को देख सहम गया।

वहीं आरोपी पिता वारदात को अंजाम देकर पहले तो मौके से फरार हो गया फिर कुछ देर बार घटनास्थल पर पहुंच गया। पुलिस ने उसे पकड़ लिया। आरोपी ने पुलिस पूछताछ में अपना जुर्म कबूल कर लिया। वहीं हत्या के बाद परिजनों में कोहराम मचा हुआ है।

नई मंडी कोतवाली इलाके के गांव कूकड़ा में रहने वाले शाहिद ने अपनी बेटी सहनुमा (18) की छुरी से गला रेतकर हत्या कर डाली। दिन निकलते ही पिता ने इस वारदात को अंजाम दिया, जिसके बाद वह मौके से फरार हो गया। परिवार के सदस्यों ने बेटी का शव फर्श से खून से लथपथ पड़ा देखा तो घर में कोहराम मच गया। मौके पर आसपास के लोग भी पहुंच गए। तुरंत घटना की जानकारी पुलिस को दी गई।

मौके पर नई मंडी कोतवाली प्रभारी निरीक्षक बबलू कुमार मौके पर पहुंचे। जिन्होंने मौका-मुआयना करते हुए जांच पड़ताल की। पुलिस का कहना है कि शाहिद पल्लेदारी का कार्य करता है। उसके चार लड़के और तीन लड़कियां हैं। गुरुवार सुबह उसने अपनी बेटी सहनुमा की हत्या कर दी है। पिता ने हत्या की वारदात को अंजाम देना स्वीकार किया है।

पुलिस ने घटना की जांच पड़ताल के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया। इसी दौरान आरोपी पिता भी मौके पर पहुंच गया। इस दौरान लोगों ने उसे घेर लिया और घटना की वजह पूछी। इसी बीच पुलिस ने आरोपी को पकड़ लिया और पूछताछ की।

पुलिस के सामने अपना जुर्म स्वीकारते हुए शाहिद ने बताया कि उसे कई दफा मना किया लेकिन वह नहीं मानी और किसी लड़के से बात करती थी। मेरी समाज में क्या इज्जत रह जाती। मेरी दाढ़ी का तो ख्याल कर लेती। मैं उस लड़के का नाम नहीं जानता लेकिन उसके हद से ज्यादा फोन आते थे। मैं तीन दिन से देख रहा था मोबाइल पर इतनी बात कर रही थी। समझाने से भी नहीं समझ रही थी।