चलती बाइक में जहर का इंजेक्शन… एक टिप से हुआ खुलासा, कोई और नहीं पत्नी की थी साजिश

जांच में सामने आया कि शेख की पत्नी इमाम बी ने हत्या की साजिश रची थी। लगभग दो महीने पहले वह जहरीला इंजेक्शन लाई थी। वह शेख को इंजेक्शन देने के प्रयास में थी लेकिन उसे मौका नहीं मिला। फिर उन्होंने दूसरी योजना बनाई।

Injection of poison in a moving bike... a tip revealed, none other than the wife's conspiracy
Injection of poison in a moving bike... a tip revealed, none other than the wife's conspiracy
इस खबर को शेयर करें

हैदराबाद: तेलंगाना में एक हैरान कर देने वाली वारदात सामने आई है। यहां पर बाइक से जा रहे एक शख्स से लिफ्ट ली गई। लिफ्ट लेने वाले ने कुछ दूर जाकर बाइक चालक को जहर का इंजेक्शन दे दिया। इस घटना को ऐक्सिडेंट में मौत साबित करने की तैयारी थी लेकिन पासा पलट गया। पुलिस ने जांच की तो सनसनीखेज हत्या के पीछे के रहस्य का पर्दाफाश हुआ कि यह हत्या पीड़ितकी पत्नी ने ही कराई थी। पुलिस ने हत्या के आरोप में पीड़ित की पत्नी और एक आरएमपी डॉक्टर समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।

मामला खम्मम जिले का है। पुलिस के अनुसार, एक किसान शेख जमाल साहब (55) 19 सितंबर की शाम को अपने घर से निकला। वह अपनी बेटी से मिलने पड़ोसी आंध्र प्रदेश के गुंडराई गांव जा रहे थे। वल्लभी गांव के पास मंकी कैप पहने एक अजनबी ने उनसे लिफ्ट मांगी। शेख जमाल रुक गए और आरोपी की लिफ्ट दे दी। कुछ दूर जाने पर पीछे बैठे शख्स ने शेख की जांघ पर इंजेक्शन लगाया।

किसानों से मांगी मदद
शेख को चक्कर का आने लगा तो पीछे बैठे शख्स ने बाइक रोकने को कहा। वह वहां से निकल गया। इधर शेख ने पास के खेतों पर काम कर रहे लोगों से मदद मांगी। उसने बताया कि उसे चक्कर आ रहा है। वे लोग उसे लेकर अस्पताल गए। इस दौरान शेख ने किसानों को बताया कि पीछे लिफ्ट लेकर बैठे शख्स ने शायद उसे कुछ इंजेक्शन सा दिया है। हलांकि अस्पताल में इलाज के दौरान शेख की मौत हो गई।

डॉक्टर भी हुआ गिरफ्तार
पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। खम्मम पुलिस आयुक्त विष्णु वारियर ने मामले की जांच के लिए चार टीमों का गठन किया था। जांच में चौंकाने वाले विवरण सामने आए और ऑटोरिक्शा चालक मोहन राव, ट्रैक्टर चालक वेंकटेश और आरएमपी डॉक्टर वेंकट की गिरफ्तारी हुई। आरएमपी डॉक्टर ने जहरीले इंजेक्शन की व्यवस्था की थी।

दो महीने पहले खरीदा गया था इंजेक्शन
जांच में सामने आया कि शेख की पत्नी इमाम बी ने हत्या की साजिश रची थी। लगभग दो महीने पहले वह जहरीला इंजेक्शन लाई थी। वह शेख को इंजेक्शन देने के प्रयास में थी लेकिन उसे मौका नहीं मिला। फिर उन्होंने दूसरी योजना बनाई। योजना था कि इमाम बी का प्रेमी मोहन राव, शेख को इंजेक्शन दे देगा। चक्कर आने के बाद ऐक्सिडेंट हुआ तो यह मौत हादसा हो जाएगी। अगर ऐसा नहीं भी होता है तो मामला सांप काटने के बाद जहर से मौत का हो जाएगा। इमाम बी के कहने पर मोहन राव ने बाइक पर लिफ्ट लेने के बाद पीड़ित को इंजेक्शन लगाया।

…तो साबित न हो पाती हत्या
इस घटना में शेख ने समय रहते किसानों से मदद मांगी और लिफ्ट लेकर संदिग्ध शख्स के इंजेक्शन जैने की बात का जिक्र किया इसलिए इस केस का खुलासा हो सका। पुलिस की मानें तो अगर शेख टिप न देता तो शायद उसकी हत्या एक हादसा ही साबित हो जाती।