प्राइवेट पार्ट में डाली लोहे की रॉड, ईंट-पत्थरों से पीटा… मौत से पहले मासूम ने मां को बताई आपबीती

देश की राजधानी में 10 साल के मासूम के साथ हैवानियत का ऐसा घिनौना खेल खेला गया, जिसने पूरी दिल्ली को शर्मसार करके रख दिया है। मासूम की मां ने कहा, 'बीते 18 सितंबर को रोजाना की तरह काम पर गई थी। जब मैं घर लौटी तब मैंने देखा कि मेरे बेटे के पैर में जख्म है। उसने मुझे बताया कि वह खेलते समय घायल हो गया।

Iron rod inserted in private part, beaten with bricks and stones... Before death, the innocent told the mother's ordeal
Iron rod inserted in private part, beaten with bricks and stones... Before death, the innocent told the mother's ordeal
इस खबर को शेयर करें

नई दिल्ली: दिल्ली में शनिवार को एक दर्दनाक घटना सामने आई, जिसने हर किसी को झंझोड़ कर रख दिया है। दरअसल दिल्ली के न्यू सीलमपुर इलाके में पिछले महीने 3 दोस्तों के कथित अप्राकृतिक यौन हमले और मारपीट के शिकार हुए 10 साल के लड़के की शनिवार को मौत हो गई। उसने मौत से पहले अपनी मां को बताया था कि आरोपियों ने उस पर ईंट से हमला किया था और उसके प्राइवेट पार्ट में लोहे की रॉड घुसा दी थी। लड़के की मां ने बताया कि पहले तो उनके बेटे ने झूठ बोला कि खेलते समय वह घायल हो गया लेकिन जब उसने उसे विश्वास में लेकर पूछताछ की तब उसने पूरी आपबीती बताई।

22 सितंबर को LNJP में भर्ती कराया गया
पुलिस के अनुसार पीड़ित के साथ 18 सितंबर को अप्राकृतिक यौन संबंध बनाया गया और उसके साथ मारपीट की गई थी। उसे 22 सितंबर को लोकनायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल में भर्ती कराया गया था। लड़के की मां ने कहा, ‘मैं घरेलू सहायिका के रूप में काम करती हूं और (18 सितंबर को) जब यह घटना घटी तब मैं काम पर बाहर गयी थी। जब मैं घर लौटी तब मैंने देखा कि मेरे बेटे के पैर में जख्म है। उसने मुझे बताया कि वह खेलते समय घायल हो गया। मैं सोच भी नहीं सकती थी कि ऐसा कुछ उसके साथ हुआ होगा।’

दो-तीन लड़कों ने की हैवानियत
उसने कहा, ‘वह बहुत दर्द में था और जब मैंने विश्वास में लेकर उससे पूछा तो उसने बस यह कहा कि वे मुझे मार डालेंगे। जब मैंने उससे फिर पूछा तो उसने मुझे बताया कि दो-तीन लड़कों ने उस पर यौन हमला किया। उन्होंने लोहे की छड़ से उसे पीटा।’ लड़के की मां ने अपने बेटे के साथ हुई यह बातचीत रिकार्ड कर ली। उसके परिवार के सदस्यों ने यह वीडियो साझा किया। इस वीडियो में लड़का दर्द से कराहता नजर आ रहा है और अपनी मां को बता रहा है कि आरोपियों ने उसे ईंट और लोहे की छड़ से पीटा तथा बाद में उन्होंने उसे एक डिस्पेंसरी की छत से फेंक दिया, जहां वे उसे ले गये थे।

मां ने आरोपियों को सख्त सजा देने की मांग की
वीडियो के अनुसार वह अपनी मां को बता रहा है कि आरोपियों ने लोहे की छड़ उसके गुप्तांग में घुसा दी एवं उन्होंने उसके साथ अप्राकृतिक यौन संबंध बनाया। लड़के की मां ने आरोपियों को सख्त सजा देने की मांग की है। लड़के की मां ने कहा, ‘…. आरोपियों को सख्त सजा मिलनी चाहिए। आज मेरे बच्चे के साथ हुआ तथा कल कोई और बच्चा शिकार हो सकता है।’

पूरे शरीर में फैल गया था संक्रमण
उसकी बहन ने कहा कि जब तक उसके भाई को अस्पताल ले जाया गया तब तक संक्रमण उसके शरीर में फैल गया था। उसने कहा, ‘उसकी स्थिति बहुत गंभीर थी और मेरी मां उसे शुरू में जग प्रवेशचंद अस्पताल ले गयी जहां डॉक्टरों ने बताया कि संक्रमण उसके शरीर में फैल गया है। तब वह उसे जीटीबी अस्पताल ले गयीं और फिर उसे लोकनायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल में भर्ती कराया गया।’ परिवार के बाद यह बच्चा अपने 6 भाई-बहनों में सबसे छोटा था। उसके चाचा के अनुसार आरोपी उसे साथ खेलने के बहाने अपने साथ ले गये थे। पुलिस ने दो आरोपियों को पकड़ा है और अभी एक आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। पुलिस के अनुसार आरोपी और पीड़ित पड़ोसी थे और समान एज ग्रुप के थे।