अभी-अभी: राजस्थान में बीजेपी की पहली लिस्ट तैयार 33 नाम तय, यहां देखें विस्तार से

Just now: BJP's first list ready in Rajasthan, 33 names finalized, see details here
Just now: BJP's first list ready in Rajasthan, 33 names finalized, see details here
इस खबर को शेयर करें

जयपुर : पीएम नरेंद्र मोदी की चुनावी सभा के बाद बीजेपी ने राजस्थान में अपनी पहली लिस्ट जारी करने के लिए जोड़तोड़ शुरू कर दी है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा इसी को लेकर आज जयपुर आ रहे हैं। ऐसे में पार्टी नेतृत्व जोड़ गुणा भाग की गणित लगाकर उम्मीदवारों के नाम कोफाइनल करने में लगी हुई है। ऐसे में चर्चा है कि बीजेपी इस बार कुछ मौजूदा विधायकों के टिकट काट सकती हैं। इनकी संख्या 30 से 35 फीसदी बताई जा रही है। इस बार बीजेपी सत्ता हासिल करने के लिए कोई जोखिम लेने के मूड में नहीं है। ऐसे में टिकट के लिए उम्मीदवारों की छटनी को लेकर बीजेपी काफी सावधानी बरत रही है। जिन विधायकों के टिकट काटे जा सकते हैं। उनको लेकर सियासत में हलचल मची हुई है। वहीं इस बीच महिला आरक्षण के बिल प्रस्तुत करने के बाद भाजपा महिला उम्मीदवारों के लिए भी अलग से विचार कर रही है। जबकि कई नाम ऐसे हैं जिन पर बीजेपी चुनाव समिति की राय लगभग तय हो चुकी है।

10 हजार से अधिक वोटों से जीतने वाले उम्मीदवारों को मिलेगी प्राथमिकता
बीजेपी शीर्ष नेतृत्व टिकटों के निर्धारण के लिए लगातार मंथन कर रही है। इस बार बीजेपी के टिकट वितरण को लेकर जो बात सामने उभरकर आ रही है। उसमें कुछ मौजूदा विधायकों के टिकट काटने की बात भी शामिल है। वहीं इसके अलावा बीजेपी उन उम्मीदवारों को प्राथमिकता देगी। जिन्होंने चुनाव में 10 हजार से अधिक मतों से जीत हासिल की। ऐसे उम्मीदवारों को टिकट देना बीजेपी का पहला टारगेट होगा। इसको लेकर बीजेपी में हारे हुए विधायकों को लेकर भी काफी मंथन चल रहा है।

बीजेपी की पहली लिस्ट में 33 नाम लगभग तय
हाल ही में एक स्थानीय समाचार पत्र में प्रकाशित खबर के अनुसार बीजेपी चुनाव समिति की ओर से तय किए गए मापदंड में राजस्थान की 200 विधानसभा सीटों में 33 सीटें ऐसी है जिन पर उम्मीदवारों के नाम लगभग तय है। इनमें झालरापाटन से पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, चूरू से नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़, आमेर से उप नेता प्रतिपक्ष सतीश पूनिया, अजमेर साउथ से अनीता भदेल, पुष्कर से सुरेश रावत, नोखा से बिहारी लाल बिश्नोई, आहोर से जगन सिंह, जालौर से जोगेश्वर गर्ग, भीनमाल से पूराराम चौधरी, पिंडवाड़ा से हेमाराम गरासिया, मावली से धर्म नारायण जोशी, सलूंबर से अमृतलाल, गाढ़ी से कैलाश चंद मीणा, चित्तौड़गढ़ से चंद्रभान, कुंभलगढ़ से सुरेंद्र सिंह राठौड़, राजसमंद से दिप्ती माहेश्वरी, डग से कालूराम, मनोहर थाना से गोविंद प्रसाद, रामगंज मंडी से मदन दिलावर, लाडपुरा से कल्पना देवी, केशव राय पाटन से चंद्रकांता, जहाजपुर से गोपीचंद मीणा, उदयपुर ग्रामीण से फूल सिंह मीणा, सुमेरपुर से जोराराम कुमावत, पाली से ज्ञानचंद पारख, बाली से पुष्पेंद्र सिंह, सोजत से शोभा चौहान, जैतारण से अविनाश, नसीराबाद से रामस्वरूप लांबा, मालपुरा से कन्हैया लाल चौधरी, अलवर से संजय शर्मा, बीकानेर पूर्व से सिद्धि कुमारी और अनूपगढ़ से संतोष के नाम लगभग तय है। जिन पर बीजेपी की चुनाव समिति मोहर लगा सकती है।

67 सीटों पर भी जल्द कर सकती है उम्मीदवारों की घोषणा
पीएम मोदी की जयपुर में सभा के बाद अब बीजेपी की जोड़तोड़ की गणित जोरों पर है। अब बीजेपी ने अपने उम्मीदवारों की घोषणा का काम तेजी से शुरू कर दिया है। इसको लेकर चर्चा है कि 67 सीटों पर भी बीजेपी चुनाव समिति की सहमति बन गई है। ऐसे में कयास यही है कि बीजेपी इन सीटों पर भी जल्द अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर सकती है।

ए श्रेणी की सीटों पर बीजेपी काफी मजबूत
बीजेपी की ओर से 200 विधानसभा सीटों का सर्वे कर वर्गीकरण किया गया। इनमें A, B, C और D सहित चार तरह के श्रेणी बनाई गई। इनमें A श्रेणी की सीट बीजेपी का गढ़ रही है। इनमें बूंदी, कोटा दक्षिण, लाडपुरा, रामगंज मंडी, झालरापाटन, खानपुर, आसींद, भीलवाड़ा, उदयपुर, राजसमंद, बीकानेर पूर्व, रतनगढ़, फुलेरा, विद्याधर नगर, मालवीय नगर, अलवर शहर, अजमेर उत्तर, अजमेर दक्षिण ब्यावर नागौर सोजत पाली वाली सूरसागर सांगानेर कोटा दक्षिण, सिवान, भीनमाल सीटे शामिल है। जहां बीजेपी ने हमेशा जीत हासिल की है।

कमजोर सीटों पर केंद्रीय मंत्री और सांसद को उतारने की तैयारी
बीजेपी ने विधानसभा चुनाव को लेकर फुलप्रूफ प्लान बनाया है। इसके तहत शीर्ष नेतृत्व की C और D कैटेगरी की सीटों पर विशेष नजर है। बीजेपी इन श्रेणी की सीटों पर अब जीत हासिल करने के लिए लगातार जुटी हुई है। ऐसे में इन कमजोर सीटों पर भाजपा ने केंद्रीय मंत्री और सांसदों को उतारने का मन बनाया है। जहां C और D कैटेगरी में पार्टी के दिग्गजों को उतार कर बीजेपी वहां से जीत तलाश कर रही है। इनमें केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, अर्जुन राम मेघवाल और कैलाश चौधरी शामिल है। इसके अलावा बीजेपी भागीरथ चौधरी, डॉ किरोडी लाल मीणा, सुखबीर सिंह जौनपुरिया जैसे सांसदों को भी C और D कैटेगरी की सीटों पर उतार कर बड़ा दावा खेल सकती है।

जयपुर की सीटों को लेकर बीजेपी का मंथन जारी
बीजेपी की ओर से उम्मीदवारों के टिकट निर्धारण का काम अब तेजी से होने लगा है। इस बीच बीजेपी के कुछ ऐसे नाम है जिनको लेकर भी टिकट देने का फैसला लगभग किया जा चुका है। इनमें मनजीत धर्मपाल, वासुदेव देवनानी, बलवीर लूथरा, सुमित गोदारा, विट्ठल शंकर अवस्थी, मोहन राम चौधरी और रामप्रताप कासनिया के नाम को लेकर चुनाव समिति की राय लगभग तय हो चुकी है। ऐसे में इन उम्मीदवारों के टिकट में भी कोई संशय नहीं है। उधर, जयपुर जिले की विधानसभा सीटों पर अभी तक बीजेपी की ओर से मंथन जारी है।