अभी अभीः जयंत चौधरी ने कर दिया बडा ऐलानः 2024 में सरकार बनाकर कर देंगे…

वेस्ट यूपी के 9 जिलों की सेना अग्निवीर भर्ती मुजफ्फरनगर जिले में चल रही है। 2024 लोकसभा चुनाव में अभी भले ही डेढ़ साल का समय हो, लेकिन राजनीतिक दल लोकसभा चुनाव को लेकर अपनी जमीन तैयार करने में लगे हैं।

Just now: Jayant Chaudhary has made a big announcement: Will form the government in 2024...
Just now: Jayant Chaudhary has made a big announcement: Will form the government in 2024...
इस खबर को शेयर करें

मेरठ। वेस्ट यूपी के 9 जिलों की सेना अग्निवीर भर्ती मुजफ्फरनगर जिले में चल रही है। 2024 लोकसभा चुनाव में अभी भले ही डेढ़ साल का समय हो, लेकिन राजनीतिक दल लोकसभा चुनाव को लेकर अपनी जमीन तैयार करने में लगे हैं। सेना की पहली अग्निवीर भर्ती चल रही है। इस योजना को लेकर राष्ट्रीय लोकदल के मुखिया जयंत चौधरी ने मंगलवार रात को एक ट्वीट किया है। जिसमें उन्होंने लिखा है कि यदि 2024 में हम केंद्र सत्ता में आते हैं तो याेजना रद्द कर दी जाएगी।

राष्ट्रीय लोकदल के मुखिया जयंत चौधरी ने मंगलवार रात को ट्वीट करते हुए लिखा कि गर्व है कि हमारे विधायक युवाओं की सेवा के लिए तत्पर हैं। अग्निवीर योजना का हम विरोध करते हैं, लेकिन अभ्यर्थी हमारे अपने हैं। 2024 में अगर हम केंद्र सत्ता में आते हैं, तो चयनित अग्निवीरों की नौकरी पक्की और ये योजना रद्द करेंगे !

वेस्ट यूपी के 9 जिलों की भर्ती मुजफ्फरनगर में चल रही
वेस्ट यूपी में सेना भर्ती के लिए युवाओं का जुनून भी कम नहीं है। बुलंदशहर का सैदपुर गांव फौजियों के गांव के नाम से देशभर में पहचान रखता है। जहां 9 हजार 5 सौ सैनिक आर्मी और अर्द्धसैनिक बलों में जा चुके हैं।

वेस्ट यूपी आरएलडी का भी गढ़ है। पहली अग्निवीर भर्ती वेस्ट यूपी के मुजफ्फरनगर जिले से शुरू हुई, जो अभी चल रही है। मुजफ्फरनगर लोकसभा केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान का क्षेत्र है। मेरठ मंडल की अग्नवीर भर्ती भी मेरठ मंडल के जिलों में न होकर सहारनपुर मंडल के मुजफ्फरनगर जिलों में हो रही है। मेरठ में पूर्व में वेस्ट यूपी की भर्ती होती रही हैं।

किसान और युवाओं को साधने का प्रयास
पूर्व केंद्रीय मंत्री चौधरी अजित सिंह के निधन के बाद राष्ट्रीय लोकदल की कमान उनके इकलौते बेटे जयंत चौधरी पर है। जयंत चौधरी पूर्व में सांसद रह चुके हैं, जो पिछले दिनों सपा के सहयेाग से राज्यसभा सदस्य बने। जयंत इस समय 2024 के लोकसभा चुनाव के लिए कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं। किसान आंदोलन में भी वह सक्रिय रहे। विधानसभा चुनाव 2022 में रालोद ने सपा गठबंधन में चुनाव लड़कर 8 विधानसभा जीती। अब वह युवाओं को साधकर आगामी चुनावों के लिए तैयारियों में लगे हैं।