अभी अभीः स्वतंत्रता दिवस पर सावरकर की तस्वीर को लेकर बवाल, लगा कर्फ्यू

कर्नाटक के शिवमोगा जिले में वीर सावरकर की तस्वीर को लेकर बवाल हो गया। कुछ मुस्लिम युवक इसका विरोध करने लगे और तनाव बढ़ गया। इसके बाद पुलिस ने कई इलाकों में कर्फ्यू लगा दिया है।

Just now: Ruckus over Savarkar's picture on Independence Day, curfew imposed
Just now: Ruckus over Savarkar's picture on Independence Day, curfew imposed
इस खबर को शेयर करें

बेंगलुरु। कर्नाटक के शिवमोगा में वीर सावरकर के एक पोस्टर को लेकर बवाल हो गया। हिंदूवादी संगठनों द्वारा स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लगाए गए इस पोस्टर का कुछ मुस्लिम युवक विरोध करने लगे। इसके बाद कर्नाटक पुलिस ने जिले के कुछ हिस्सों में प्रतिबंध लगा दिए हैं। सावरकर की तस्वीर हटाने को लेकर हिंदू संगठनों ने प्रदर्शन शुरू कर दिया है।

मंगलुरु के सुरातकल जंक्शन पर भी इसी तरह के बैनर को लेकर बवाल हुआ। यहां सोशल डिमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया(SDPI) के कार्यकर्ताओं सावरकर की तस्वीर को लेकर आपत्ति जताई और इसके बाद इस फ्लेक्स को हटा दिया गया। यहां एक सर्कल का नाम सावरकर के नाम पर रखा गया था। मंगलुरु सिटी कॉर्पोरेशन ने इसकी मंजूरी भी दी थी। भाजपा विधायक वाई भारत शेट्टी की मांग पर सर्कल का नाम सावरकर के नाम पर रखा गया था।

SDPI के स्थानीय नेता ने कहा कि सुरतकल एक संवेदनशील इलाका है इसलिए मामले को पुलिस के संज्ञान में लाया गया। एसडीपीआई भी सर्कल का नाम सावरकर के नाम पर रखने का विरोधी है। बता दें कि बीते कुछ समय में कर्नाटक से कई साप्रदायिक घटनाएं सामने आई हैं।

टीपू सुल्तान के पोस्टर पर भी विवाद
कर्नाटक में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने स्वतंत्रता सेनानियों के साथ टीपू सुल्तान का भी पोस्टर लगाया था। इसके बाद डीके शिवकुमार घटनास्थल पर पहुंचे थे। इसके बाद शिवकुमार ने सीएम बोम्मई को निशाने पर लिया और कहा कि उन्होंने स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की लिस्ट से पंडित नेहरू का नाम गायब कर दिया। कई ट्वीट करके उन्होंने सावरकर पर भी हमला किया।