अभी अभीः इस सांसद ने मुस्लिम महिलाओं को बता दिया वेश्या, बोलेः नग्न होकर…

Anti Hijab Protests in Iran: ईरानी वेबसाइट ‘फरारू’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक सांसद नबावियान ने हिजाब न पहनने वाली महिला प्रदर्शनकारियों को वेश्या बताते हुए कहा कि ये दंगाई खुद वेश्यावृत्ति करने निकली हैं. उन्होंने दावा किया कि हिजाब को उतारना, पुरुषों का ध्यान आकर्षित करने के लिए सार्वजनिक रूप से नग्न होने के समान है.

Just now: This MP told Muslim women prostitutes, said: being naked...
Just now: This MP told Muslim women prostitutes, said: being naked...
इस खबर को शेयर करें

तेहरान. ईरान में हिजाब पहनने के खिलाफ जारी विरोध-प्रदर्शनों के बीच देश के एक रूढ़िवादी सांसद ने मंगलवार को उन महिला प्रदर्शनकारियों को ‘वेश्या’ कहा, जो हिजाब पहनने के अनिवार्य नियम का उल्लंघन कर रही हैं. ईरानी मोरलिटी पुलिस की हिरासत में 22 वर्षीय महसा अमीनी की मौत के बाद ईरान के प्रांतों और राजधानी तेहरान में विरोध-प्रदर्शन जारी हैं. अमीनी को हिजाब ठीक से नहीं पहनने के लिए गिरफ्तार किया गया था जहां उसकी हिरासत में 16 सितंबर को मौत हो गयी थी.

तेहरान से सांसद महमूद नबावियान की प्रदर्शनकारियों के खिलाफ की गईं कड़ी टिप्पणियों को देश के शीर्ष मौलवी अयातुल्ला हुसैन नूरी हमदानी की रविवार को की गई उस अपील के विरोधाभास के तौर पर देखा जा रहा है, जिसमें हमदानी ने सरकार से जनता की मांगों को सुनने का आग्रह किया था. सरकारी टीवी चैनलों के मुताबिक, 17 सितंबर को प्रदर्शन शुरू होने के बाद से अब तक प्रदर्शनकारियों और पुलिसकर्मियों समेत 41 लोगों की मौत हो चुकी है.

ईरानी वेबसाइट ‘फरारू’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक सांसद नबावियान ने हिजाब न पहनने वाली महिला प्रदर्शनकारियों को वेश्या बताते हुए कहा कि ये दंगाई खुद वेश्यावृत्ति करने निकली हैं. उन्होंने दावा किया कि हिजाब को उतारना, पुरुषों का ध्यान आकर्षित करने के लिए सार्वजनिक रूप से नग्न होने के समान है. गौरतलब है कि सांसद महमूद नबावियान की अशोभनीय टिप्पणी पर अभी तक सरकार की कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है.

हिजाब के विरुद्ध लोगों में बढ़ रहे असंतोष के बाद भड़के प्रदर्शनों को रोकने के लिए पुलिस भारी बल का प्रयोग कर रही है. ईरान में जगह-जगह हो रहे हिजाब विरोधी प्रदर्शनों में कई महिलाएं हिजाब को आग लगाती हुई दिख रही हैं जिससे भड़की पुलिस लगातार प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैस छोड़ रही है और फायरिंग कर रही है. सरकारी मीडिया के आंकड़ों के मुताबिक अब तक इन प्रदर्शनों में 41 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं.