प्रेशर में भी जीत का हुनर मालूम है! कोच बने गौतम गंभीर तो टीम इंडिया को होंगे ये 5 बड़े फायदे

Knows the art of winning even under pressure! If Gautam Gambhir becomes the coach then Team India will get these 5 big benefits
Knows the art of winning even under pressure! If Gautam Gambhir becomes the coach then Team India will get these 5 big benefits
इस खबर को शेयर करें

Gautam Gambhir: भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) जल्द ही गौतम गंभीर को टीम इंडिया का नया हेड कोच नियुक्त कर सकती है. गौतम गंभीर को हेड कोच नियुक्त किया जाना लगभग तय है. गौतम गंभीर बीसीसीआई के साथ जिस कॉन्ट्रैक्ट पर साइन करेंगे वह 2027 वनडे वर्ल्ड कप तक जारी रहेगा. बता दें कि गौतम गंभीर को IPL 2024 के लिए कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) का मेंटॉर बनाया गया था और यह फैसला मास्टर स्ट्रोक साबित हुआ. गौतम गंभीर ने कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) को IPL 2024 की ट्रॉफी जिताने में बड़ा रोल निभाया था. गौतम गंभीर अगर हेड कोच बनते हैं तो टीम इंडिया को इसका जबरदस्त फायदा मिलेगा. आइए एक नजर डालते हैं कि गौतम गंभीर के कोच बनते ही टीम इंडिया को कौन से 5 बड़े फायदे मिलेंगे.

1. वर्ल्ड कप जैसे टूर्नामेंट में मिलेगी जीत

गौतम गंभीर अगर हेड कोच बनेंगे तो वह भारतीय टीम के खिलाड़ियों को वर्ल्ड कप जैसे बड़े टूर्नामेंट्स जीतने का तरीका सिखाएंगे. गौतम गंभीर ने 2007 टी20 वर्ल्ड कप फाइनल और 2011 वनडे वर्ल्ड कप फाइनल में मैच विनिंग पारियां खेलकर टीम इंडिया को ट्रॉफी जिताई थी. गौतम गंभीर ने 2007 टी20 वर्ल्ड कप फाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ 75 रन बनाए थे. वहीं, 2011 वनडे वर्ल्ड कप फाइनल में गौतम गंभीर ने श्रीलंका के खिलाफ 97 रन बनाए थे. गौतम गंभीर को वो हुनर पता है कि वर्ल्ड कप फाइनल जैसे बड़े मैचों में दबाव को कैसे हैंडल करना है. गौतम गंभीर के कोच बनने से टीम इंडिया वर्ल्ड कप जैसे टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन कर सकती है.

2. टीम इंडिया की मजबूत होगी बेंच स्ट्रेंथ

गौतम गंभीर क्रिकेट के एक बहुत चतुर रणनीतिकार हैं. गौतम गंभीर के कोच बनने से टीम इंडिया की बेंच स्ट्रेंथ और भी ज्यादा मजबूत होगी. जब भी किसी बड़े वर्ल्ड टूर्नामेंट या विदेशी सीरीज में टीम इंडिया का कोई प्रमुख खिलाड़ी चोटिल होगा तो उसकी जगह लेने वाला कोई भी युवा खिलाड़ी अकेले दम पर मैच पलटने में सक्षम होगा. गौतम गंभीर अपनी कोचिंग में भारतीय टीम के लिए कई बड़े मैच विनर तैयार कर सकते हैं. ऐसे में टीम इंडिया सिर्फ एक या दो बड़े खिलाड़ियों के भरोसे ही चलेगी.

3. हर फॉर्मेट के लिए अलग टीम होगी तैयार

टेस्ट, वनडे और टी20 इन तीनों ही फॉर्मेट्स में भारत की लगभग एक जैसी ही टीम खेलती है. गौतम गंभीर अपनी कोचिंग में हर फॉर्मेट के लिए अलग टीम इंडिया तैयार कर सकते हैं. गौतम गंभीर के इस फॉर्मूले से टीम इंडिया के खिलाड़ियों का वर्कलोड भी बहुत बेहतर तरीके से मैनेज होगा. हर फॉर्मेट में अलग टीम होगी तो खिलाड़ी तरोताजा रहेंगे और चोट से भी बचेंगे.

4. विदेशों में जीत का सुधरेगा रिकॉर्ड

टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया में तो टेस्ट सीरीज दो बार जीत चुकी है, लेकिन साउथ अफ्रीका में उसने कभी कोई टेस्ट सीरीज नहीं जीती है. गौतम गंभीर के कोचिंग करियर का सबसे बड़ा इम्तिहान साउथ अफ्रीका की धरती पर टेस्ट सीरीज जीतना होगा. इसके अलावा भारतीय टीम ने इंग्लैंड और न्यूजीलैंड में भी लंबे समय से कोई टेस्ट सीरीज नहीं जीती है. गौतम गंभीर के आने से टीम इंडिया में और भी आक्रामकता आएगी जो उसे इंग्लैंड और न्यूजीलैंड की धरती पर सफेद कपड़ों की क्रिकेट में कामयाबी दिला सकती है. गौतम गंभीर के कोचिंग करियर के दौरान विदेशी धरती पर टीम इंडिया के जीत का रिकॉर्ड सुधर सकता है.

5. विराट और रोहित जैसे खिलाड़ी होंगे तैयार

मौजूदा समय में भारतीय टीम विराट कोहली और रोहित शर्मा जैसे दो बड़े स्टार खिलाड़ियों पर ही निर्भर है. गौतम गंभीर अपनी कोचिंग में भविष्य के वो बड़े खिलाड़ी तैयार कर सकते हैं जो विराट कोहली और रोहित शर्मा के संन्यास के बाद टीम इंडिया की रीड की हड्डी बनेंगे. विराट कोहली और रोहित शर्मा जैसे खिलाड़ी तैयार करना आसान नहीं होगा, लेकिन गौतम गंभीर हर असंभव चीज को भी संभव करने का माद्दा रखते हैं.