एक कॉल से शुरू हुआ इश्क, 3 बच्चों के पिता ने मंदिर में की 30 साल की गर्लफ्रेंड से शादी

इस खबर को शेयर करें

जमुई. बिहार के जमुई जिले में 3 महीने के प्यार में 3 बच्चों के पिता ने मंदिर में अपनी प्रेमिका से शादी कर ली. महिला की पहले शादी हो चुकी थी और वह तलाकशुदा है. अब दोनों लव मैरिज कर एक दूजे के हो गए हैं.

जमुई शहर के अनुमंडलाधिकारी कार्यालय परिसर के मंदिर में शादी होने के बाद कोर्ट मैरिज का भी प्रक्रिया करवा दी गई. जमुई के सरकारी कार्यालय परिसर में बगैर बैंड-बाजा, बाराती मंदिर में हो रही शादी को देखने के लिए लोगों की भीड़ जुट गई. दरअसल पत्नी की मौत के बाद 3 बच्चों के पिता भीम पासवान को एक जीवनसाथी की जरूरत थी. तो वहीं विधवा जैसी जिंदगी जी रही सरिता कुमारी को भी साथी की जरूरत थी. बताया जा रहा है कि 3 महीने पहले दोनों को एक दूसरे के बारे में जानकारी मिली थी. फिर रिश्तेदारों की मदद से दोनों ने एक दूसरे का नंबर लिया और फिर बातचीत होने लगी.
दोनों 3 महीने में एक दूसरे को दिल दे बैठे. फिर जिंदगी भर का साथ निभाना का वादा करते हुए शादी का फैसला ले लिया. आनन-फानन में दोनों ने इसकी जानकारी अपने रिश्तेदारों को भी दे दी. फिर क्या था, बगैर देरी किए बुधवार को कानूनी शादी करने के लिए दोनो कोर्ट पहुंच गए. यहां मंदिर में पहले देवी-देवताओं से आशीर्वाद लेने के लिए एक दूसरे को माला पहनाकर शादी के बंधन में बंध गए.

कपल को लोगों ने दी शुभकामनाएं
नवादा जिले के कौआकोल इलाके के 40 साल के भीम पासवान ने बताया कि वह तीन बच्चों के पिता हैं. उसकी पत्नी की मौत 4 महीने पहले बीमारी के कारण अचानक हो गई थी. चेन्नई की एक कंपनी में वह काम करता है. इस बीच उसे सरिता का मोबाइल नंबर मिला. फिर उससे बात करने लगा. इसके बाद शादी का फैसला लिया. वहीं जमुई जिले के अलीगंज इलाके के एक गांव की 30 साल की सरिता ने बताया कि साल 2018 में उसके घर वालों ने उसकी शादी धनबाद के एक लड़के से करवाई थी. वह शराबी था और नशे में मारपीट और प्रताड़ित करता था.