बड़े पैसे वाले हैं मध्यप्रदेश के नए CM मोहन यादव, खेती से होती है कमाई, जानिए कितनी है दौलत

Madhya Pradesh's new CM Mohan Yadav is a big money maker, earns from farming, know how much wealth he has
Madhya Pradesh's new CM Mohan Yadav is a big money maker, earns from farming, know how much wealth he has
इस खबर को शेयर करें

नई दिल्ली : मध्य प्रदेश को नया मुख्यमंत्री मिल गया है। बीजेपी ने बड़ा सरप्राइज देते हुए डॉक्टर मोहन यादव को मध्य प्रदेश का सीएम बनाया है। मोहन यादव उज्जेन दक्षिण से विधायक हैं। मोहन यादव राष्ट्रीय स्वयंसेवक के काफी करीबी हैं। मोहन यादव की संपत्ति की बात करें, तो उनकी कुल नेटवर्थ (Mohan Yadav Net worth) 42 करोड़ रुपये है। मोहन यादव ने बिजनस और एग्रीकल्चर से अच्छा पैसा बनाया है। मोहन यादव के पास 32.1 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति है। वहीं, 9.9 करोड़ रुपये की चल सपत्ति है। इसके अलावा मोहन यादव के पास 8.5 करोड़ रुपये की लायबिलिटीज भी हैं।

मोहन यादव इस तरह बढ़ी संपत्ति

इससे पहले साल 2018 के मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में मोहन यादव ने 31 करोड़ रुपये की संपत्ति घोषित की थी। उस समय यादव पर कुल लायबिलिटी 8 करोड़ रुपये की थी। इसससे पहले के मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव 2013 की बात करें, तो उस समय भी ये उज्जेन साउथ से चुनाव लड़े थे। उस समय यादव की कुल संपत्ति 16 करोड़ रुपये थी। वहीं, कुल लायबिलिटी 5 करोड़ रुपये थी।

मध्यप्रदेश के अमीर नेताओं में है मोहन यादव गिनती

मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री मोहन यादव की गिनती राज्य के अमीर नेताओं में होती है। साल 2018 के विधानसभा चुनाव में अधिकतम संपत्ति घोषित करने वाले एमपी के टॉप-3 मंत्रियों में पहले नंबर पर भूपेंद्र सिंह और दूसरे नंबर पर मोहन यादव का नाम था। उस समय मोहन यादव की संपत्ति 31 करोड़ रुपये थी।

कितना कैश-कितना निवेश

चुनाव आयोग को दिए गए ताजा हलफनामे में मोहन यादव ने अपनी संपत्ति का ब्योरा दिया था। इसके अनुसार मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री के पास 1.41 लाख रुपये कैश थे। जबकि उनकी पत्नी के पास 3.38 लाख रुपये की नकदी थी। बैंकों में जमा राशि की बात करें, तो अलग-अलग बैंकों में उनके और उनकी पत्नी के अकाउंट्स में 28,68,044.97 रुपये जमा थे। चुनावी हलफनामे के अनुसार, उन्होंने अपनी पत्नी के साथ कई कंपनियों के शेयर, डिबेंचर और बॉन्ड्स में 6,42,71,317 रुपये का निवेश किया हुआ है।