ना चाहते हुए भी ऐसी महिला के आगे सिर झुका देते हैं पुरुष! कभी नहीं दे पाते मात

महान विद्वान, अर्थशास्‍त्री, कूटनीति के ज्ञाता आचार्य चाणक्य ने अपने नीति शास्‍त्र में बताया है कि कुछ मामलों में महिलाएं, पुरुषों से हमेशा आगे रहती हैं. चाणक्‍य नीति के अनुसार पुरुष कभी भी महिलाओं को इन मामलों में पीछे नहीं छोड़ सकते हैं.

Men bow their heads in front of such a woman even without wanting to! can never beat
Men bow their heads in front of such a woman even without wanting to! can never beat
इस खबर को शेयर करें

Chanakya Niti Stri Charitra: महान विद्वान, अर्थशास्‍त्री, कूटनीति के ज्ञाता आचार्य चाणक्य ने अपने नीति शास्‍त्र में बताया है कि कुछ मामलों में महिलाएं, पुरुषों से हमेशा आगे रहती हैं. चाणक्‍य नीति के अनुसार पुरुष कभी भी महिलाओं को इन मामलों में पीछे नहीं छोड़ सकते हैं. पुरुषों को ना चाहते हुए भी महिलाओं के इन गुणों के आगे सिर झुकाना ही पड़ता है. आइए जानते हैं चाणक्‍य नीति में बताई गई महिलाओं की वो कौनसी खास बातें हैं, जो उन्‍हें पुरुषों से हमेशा आगे रखती हैं.

इन मामलों में महिलाओं को कभी मात नहीं दे सकते पुरुष
दया और करुणा: चाणक्‍य नीति कहती है कि महिलाओं में दया और करुणा की भावना पुरुषों की तुलना में कहीं ज्‍यादा होती है. इसलिए धर्म-शास्‍त्रों में भी महिला को दया-करुणा, वात्‍सल्‍य और ममता का रूप कहा गया है. महिलाओं के इन गुणों को कभी भी कमजोर समझने की भूल नहीं करना चाहिए, इनमें बहुत ताकत होती है.

समझदारी और धैर्य: महिलाएं पुरुषों की तुलना में ज्‍यादा समझदार और धैर्यवान होती हैं. समस्‍या आने पर वे जल्‍दी नहीं घबराती हैं. जिंदगी में मुश्किल समय आए तो उसे धैर्य से पार करती हैं. जबकि पुरुष जल्‍द ही अपना आपा खो देते हैं और अपने हाथों ही अपना नुकसान करवा लेते हैं.

भूख: चाणक्‍य नीति कहती है कि महिलाओं की शारीरिक बनावट ऐसी होती है कि उन्‍हें पुरुषों की तुलना में ज्‍यादा भूख लगती है. महिलाओं को हमेशा पौष्टिक और पर्याप्‍त मात्रा में भोजन करना चाहिए. हालांकि भूख सहने की क्षमता भी महिलाओं में पुरुषों की तुलना में ज्‍यादा होती है. यही वजह है कि वे पूरे परिवार को भोजन कराने के बाद खुद भोजन करती हैं.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. AAJ KI NEWS इसकी पुष्टि नहीं करता है.)