सास, बहू और कत्ल… NRI पति की मां ने रची खौफनाक साजिश, ढाई साल बाद ऐसे खुला था राज

मर्डर के कुछ केस ऐसे भी होते हैं, जो पुलिस के लिए चुनौती बन जाते हैं. उनकी तफ्तीश करना और कातिल तक पहुंचना एक अनसुलझी पहेली हो जाता है. ऐसा ही एक मामला कुछ साल पहले पंजाब से सामने आया था, जिसमें कातिल ने कत्ल की ऐसी साजिश रची थी कि जांच अधिकारी भी हैरान रह गए थे.

Mother-in-law, daughter-in-law and murder... NRI husband's mother hatched a sinister conspiracy, the secret was revealed after two and a half years
Mother-in-law, daughter-in-law and murder... NRI husband's mother hatched a sinister conspiracy, the secret was revealed after two and a half years
इस खबर को शेयर करें

नई दिल्ली। किसी इंसान का कत्ल करना सबसे संगीन जुर्म माना जाता है. और जब भी कत्ल के मामले पुलिस के सामने आते हैं, तो पुलिस कातिल तक पहुंचने की हर मुमकिन कोशिश करती है. लेकिन मर्डर के सभी मामले इतने आसान नहीं होते कि चंद दिनों में ही उनका खुलासा हो जाए. बल्कि कुछ ऐसे केस भी सामने आते हैं जो पुलिस के लिए चुनौती बन जाते हैं. उनकी तफ्तीश करना और कातिल तक पहुंचना एक अनसुलझी पहेली बन जाता है. ऐसा ही एक मामला कुछ साल पहले सामने आया था, जिसमें कातिल ने कत्ल की ऐसी साजिश रची थी कि जांच अधिकारी भी हैरान रह गए थे. क्राइम कथा में इस बार कहानी एक सास, बहू और मर्डर मिस्ट्री की.

रोहणों खुर्द गांव का हंसता खेलता परिवार

खन्ना जिले में एक गांव है रोहणों खुर्द. जहां बलजीत का कौर का परिवार रहता था. बलजीत कौर का बेटा गुरजीत सिंह एनआरआई था. विदेश में अच्छा काम करता था. लिहाजा उसकी शादी बलजीत कौर ने धूमधाम से की थी. गुरजीत की पत्नी का नाम गुरमीत कौर था. शादी के बाद दोनों खुश थे. घर में किसी जीज की कमी नहीं थी. सबकुछ ठीक चल रहा था. शादी के करीब सालभर बाद ही गुरमीत कौर ने एक बेटे को जन्म दिया. पोता पाकर बलजीत कौर बेहद खुश थी. उसका बेटा गुरजीत भी साल में दो तीन बार विदेश से गांव आ जाता था.

11 दिसंबर 2017, खन्ना, पंजाब

उस साल दिसंबर में गुरजीत तो विदेश में ही था. लेकिन गांव में कुछ ऐसा हो गया कि सबके होश उड़ गए. उस रोज तारीख थी 11 दिसंबर. बलजीत कौर गांव के कुछ जिम्मेदार लोगों के साथ अचानक इलाके के पुलिस थाने पहुंची. बलजीत कौर ने पुलिस को बताया कि 10 दिसबंर की रात अचानक उसकी बहू घर से कहीं गायब हो गई है. वो साथ में करीब 22 लाख रुपये भी ले गई है. जबकि उसका मासूम बेटा घर ही था. बलजीत कौर ने पुलिस को ये भी बताया कि उसकी बहू गुरमीत कौर जब भी कहीं जाती थी तो कहकर जाती थी. मगर इस बार वो बिना बताए ही गायब हो गई. उसका यूं गायब हो जाता हैरान कर रहा था.