बिहार में NDA को लगेगा जोर का झटका! 3 MP थामेंगे नीतीश-तेजस्वी का हाथ

बिहार में सियासी बवाल अभी थमने का नाम नहीं ले रहा है. हाल ही में नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने बीजेपी से नाता तोड़कर आरजेडी के साथ बिहार में सरकार बना ली. ऐसे में जहां नीतीश एक बार फिर सीएम की कुर्सी पर बैठे तो वहीं लालू के लाल तेजस्वी यादव (Tajashwi Yadav) को डिप्टी सीएम का पद मिला. लेकिन मामला यहीं तक नहीं सिमटा, बिहार में अब नई कैबिनेट को लेकर भी माथापच्ची जारी है. तो वहीं NDA को जल्द ही एक और झटका लगने की बात सामने आ रही है

इस खबर को शेयर करें

बिहार में सियासी बवाल अभी थमने का नाम नहीं ले रहा है. हाल ही में नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने बीजेपी से नाता तोड़कर आरजेडी के साथ बिहार में सरकार बना ली. ऐसे में जहां नीतीश एक बार फिर सीएम की कुर्सी पर बैठे तो वहीं लालू के लाल तेजस्वी यादव (Tajashwi Yadav) को डिप्टी सीएम का पद मिला. लेकिन मामला यहीं तक नहीं सिमटा, बिहार में अब नई कैबिनेट को लेकर भी माथापच्ची जारी है. तो वहीं NDA को जल्द ही एक और झटका लगने की बात सामने आ रही है.

जानकारी के मुताबिक बिहार से NDA के तीन सांसद जेडीयू और आरजेडी का समर्थन कर सकते हैं. ये तीनो सांसद लोक जनशक्ति पार्टी के पारस गुट के हैं. केंद्रीय मंत्री पशुपति पारस ने ऐलान किया था कि वो NDA के साथ रहेंगे. ऐसे में माना जा रहा है कि खगड़िया के सांसद महबूब अली कैसर आरजेडी, और वैशाली से सांसद वीणा देवी और नवादा से चंदन सिंह जेडीयू में शामिल हो सकते है.

2019 में लोक जनशक्ति पार्टी के 6 सांसद जीते थे. पिछले साल लोक जनशक्ति पार्टी में हुई टूट के बाद पार्टी चिराग और पारस गट में बंट गईं. पारस के साथ 5 सांसद थे जबकि चिराग अकेले. अब खबर है कि जमुई से सांसद चिराग, हाजीपुर से पारस और समस्तीपुर से प्रिंस जो कि एक ही परिवार है इनको