बिहार में नयी सरकार का नया खेल: सरकारी बैठक में पहुंचे ‘दामाद जी’, तेजप्रताप ने जीजा को सरकारी बैठक में बिठाया

ये मामला लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव से जुडा हुआ है. तेजप्रताप यादव को नीतीश कैबिनेट में वन एवं पर्यावरण विभाग का मंत्री बनाया गया है. मंत्री बनने के बाद तेजप्रताप एक्शन में हैं लेकिन उन्होंने एक बार फिर सरकार की किरकिरी करा दी है.

इस खबर को शेयर करें

PATNA: बिहार में नयी सरकार बनने के बाद सरकार में ‘दामाद जी’ की एंट्री हो गयी है. राज्य सरकार की एक सरकारी बैठक में लालू प्रसाद यादव के दामाद और तेजस्वी-तेजप्रताप के बहनोई शैलेश भी बैठे हुए नजर आ रहे हैं. बैठक की तस्वीरें औऱ वीडियो सामने आय़ी है, जिससे सरकार एक औऱ नये झमेले में फंसी है.

जीजा पर तेजप्रताप यादव की मेहरबानी
ये मामला लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव से जुडा हुआ है. तेजप्रताप यादव को नीतीश कैबिनेट में वन एवं पर्यावरण विभाग का मंत्री बनाया गया है. मंत्री बनने के बाद तेजप्रताप एक्शन में हैं लेकिन उन्होंने एक बार फिर सरकार की किरकिरी करा दी है. दरअसल तेजप्रताप यादव के विभाग के अधीन ही बिहार राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड आता है. मंत्री पद संभालने के बाद तेजप्रताप यादव प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड की समीक्षा करने पहुंच गये. लेकिन उन्होंने बडी चूक कर दी.

सरकारी बैठक में लालू के दामाद मौजूद
तेजप्रताप यादव ने प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के अधिकारियों के साथ जो बैठक की उसका वीडियो सामने आया है. वीडियो में दिख रहा है कि तेजप्रताप अधिकरियों के साथ समीक्षा कर रहे हैं और उस बैठक में तेजप्रताप के बहनोई शैलेश भी मौजूद हैं. बता दें कि शैलेश लालू-राबडी की बडी बेटी मीसा भारती के पति हैं. लालू परिवार पर अवैध संपत्ति अर्जित करने के जो आरोप लगते रहे हैं उसमें शैलेश का नाम भी आता रहा है.

सरकारी बैठक में लालू प्रसाद यादव के दामाद की मौजूदगी ने नीतीश-तेजस्वी को नयी मुसीबत में डाल दिया है. इस मसले पर आरजेडी-जेडीयू ने कोई सफाई नहीं दी है लेकिन बीजेपी हमलावर है. बीजेपी ओबीसी मोर्चा के राष्ट्रीय महामंत्री निखिल आनंद ने कहा है कि सरकार की सारी हकीकत सामने आने लगी है. अब पति-पत्नी और बेटे-बेटी ही नहीं बल्कि दामाद जी भी सरकार को चलायेंगे.