पानी के बिल को लेकर श्रद्धा हत्याकांड में आया नया मोड़, पड़ोसी बोले- आफताब रोज टंकी चेक करता था

मुंबई की युवती श्रद्धा वाकर की बर्बर हत्या मामले में दिल्ली पुलिस की जांच में रोजाना नए-नए और चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। इस बीच दिल्ली में छतरपुर के जिस फ्लैट में आरोपित आफताब अमीन पूनावाला ने श्रद्धा की हत्या की उसका पानी का बिल भी जांच में अहम सबूत बन सकता है।

New twist in Shraddha murder case regarding water bill, neighbor said – Aftab used to check tank daily
New twist in Shraddha murder case regarding water bill, neighbor said – Aftab used to check tank daily
इस खबर को शेयर करें

नई दिल्ली। मुंबई की युवती श्रद्धा वाकर की बर्बर हत्या मामले में दिल्ली पुलिस की जांच में रोजाना नए-नए और चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। इस बीच दिल्ली में छतरपुर के जिस फ्लैट में आरोपित आफताब अमीन पूनावाला ने श्रद्धा की हत्या की उसका पानी का बिल भी जांच में अहम सबूत बन सकता है।

दिल्ली पुलिस सूत्रों के मुताबिक, आफताब-श्रद्धा का 300 रुपये का पानी का बिल बकाया है। कहा जा रहा है कि हत्या के बाद आफताब ने खून के धब्बों को साफ करने के लिए बहुत सारे पानी का इस्तेमाल किया, जिसके कारण पानी का बिल और बिल लंबित हो गया। पड़ोसियों ने पुलिस को बताया कि आफताब नियमित रूप से इमारत की पानी की टंकी की जांच करने जाता था।

अधिक आया पानी का बिल
दरअसल, तीन मंजिला मकान का पानी का बिल मई, 2022 में अधिक आया था। ऐसे में आशंका है कि श्रद्धा की हत्या के बाद खून के धब्बों को धोने में आफताब ने अधिक पानी का इस्तेमाल किया होगा, जिसके चलते पानी का बिल अधिक आया। वहीं, यह बात भी सामने आई है कि आफताब ने मई महीने का पानी का बिल भी जमा नहीं किया।

यह अलग बात है कि तीन मंजिला मकान के पहले फ्लोर पर आफताब गर्लफ्रेंड श्रद्धा के साथ रहता था और तीनों फ्लैट का बिल एक साथ आता था। मई में पहला मौका था जब पानी का इस्तेमाल अधिक हुआ, जबकि इससे पहले और बाद के महीनों में इतना अधिक पानी इस्तेमाल नहीं किया गया।

पानी के अधिक बिल से गहराया शक
दिल्ली पुलिस के सूत्रों की मानें को 18 मई को झगड़े के दौरान आफताब ने गर्लफ्रेंड श्रद्धा की हत्या की फिर उसके मृत शरीर को बाथरूम में लेकर गया। इसके बाद बाथरूम में ही श्रद्धा के शरीर के 35 टुकड़े किए। इस बीच दिल्ली पुलिस इस एंगल से भी जांच कर रही है कि श्रद्धा के शरीर के टुकड़े करने के बाद खून के धब्बों को मिटाने के लिए आफताब द्वारा तुलनात्मक रूप से अधिक पानी का इस्तेमाल किया गया होगा।

पानी का अधिक बिल भी हो सकता है हत्याकांड में सबूत
दिल्ली पुलिस के सूत्रों के मुताबिक, आफताब ने गर्लफ्रेंड श्रद्धा वाकर की हत्या के बाद उसके शरीर को बाथरूम रखने के बादा खून के धब्बे साफ करने के लिए पानी के नल को चालू रखा था। जाहिर है अधिक पानी के इस्तेमाल से घर वाटर बिल अधिक आया होगा। अगर दिल्ली पुलिस की थ्योरी सही निकली तो श्रद्धा हत्याकांड में पानी का बिल एक बड़ा और अहम सबूत हो सकता है।

गौरतलब है कि मुंबई से दिल्ली आए आफताब और श्रद्धा ने दिल्ली के छतरपुर इलाके में किराये का मकान लिया। बताया जा रहा है कि दोनों इस मकान में मई के पहले पखवाड़े में शिफ्ट हुए थे और 18 मई को श्रद्धा की हत्या आफताब ने गला दबाकर की थी। आफताब ने पहली मंजिल का फ्लैट किराये पर लिया था।

आफताब ने नहीं दिया मई का पानी का बिल
उधर, इस फ्लैट के केयरटेकर राजेंद्र कुमार की मानें तो आफताब पूनावाला ने फ्लैट के पानी का बिल नहीं भरा है। यहां पर गौर करने वाली बात यह है कि तीन मंजिला इमारत के सभी किराएदारों ने इससे पहले कभी पानी के बिल का भुगतान नहीं किया था, क्योंकि दिल्ली सरकार 500 लीटर पानी के इस्तेमाल पर बिल नहीं लेती है।