अभी अभी: उपद्रव के बाद एक्शन में CM नीतीश, 15 जिलों में इंटरनेट बंद के आदेश

सेना भर्ती योजना अग्निपथ को लेकर बिहार में शुक्रवार को छात्रों ने जमकर उपद्रव मचाया. कई ट्रेनें फूंक दी गईं, रेलवे स्टेशनों पर तोड़फोड़ की गई. इसके बाद नीतीश सरकार ने 15 जिलों में इंटरनेट सेवा बंद कर दी है और कई सोशल मीडिया साइट्स पर बैन लगा दिया है.

Just now: Fierce ruckus at Agneepath in Uttarakhand, police lathi-charged
Just now: Fierce ruckus at Agneepath in Uttarakhand, police lathi-charged
इस खबर को शेयर करें

Agnipath Scheme Protest In Bihar: अग्निपथ भर्ती योजना को लेकर पिछले तीन दिनों से बिहार में हो रहे हिंसक प्रदर्शन को देखते हुए नीतीश सरकार ने 48 घंटे के लिए 15जिलों में इंटरनेट सेवा बंद कर दी है वहीं सोशल मीडिया ऐप पर भी रोक लगा दी है. नीतीश सरकार का यह आदेश शुक्रवार को अपराह्न दो बजे से लेकर रविवार यानी 19 जून तक प्रभावी रहेगा. बिहार के कैमूर, भोजपुर, औरंगाबाद, रोहतास, बक्सर, नवादा, पश्चिमी चंपारण, समस्तीपुर, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, मोतिहारी, लखीसराय, बेगूसराय, वैशाली और सारण शामिल जिलों में ये सख्त आदेश लागू रहेगा. वहीं, पश्चिम चंपारण जिला मुख्यालय बेतिया सदर में धारा 144 लगा दी गई है.

आगजनी-पत्थरबाजी के बाद जागी नीतीश सरकार
बिहार गृह विभाग की विशेष शाखा नेआदेश जारी किया है, जिसमें कहा गया है कि अपर पुलिस महानिदेशक विधि-व्यवस्था और अन्य स्रोतों से जानकारी मिली है कि कुछ असामाजिक तत्व इंटरनेट सेवा का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं. इंटरनेट मीडिया के विभिन्न प्लेटफार्म की मदद से गलत, भ्रामक संदेशों के साथ अफवाह फैलाई जा रही है, जिससे अराजक स्थिति उत्पन्न हो रही है.

बिहार में उपजे ऐसे हालात को देखते हुए शांति व्यवस्था के लिए एक दर्जन जिलों में फेसबुक, ट्विटर और वाट्सएप जैसे इंटरनेट मीडिया साइट्स पर रोक लगाने का निर्णय लिया गया है. इन जिलों में इन सोशल साइट्स से कोई भी संदेश, तस्वीर या वीडियो रविवार तक एक दूसरे से शेयर नहीं की जा सकेगी.

इन सोशल मीडिया ऐप पर लगा प्रतिबंध
– Facebook

– Twitter

– Whatsapp

– QQ

– Wechat

– Qzone

– Tublr

– Google+

– Baidu

– Skype

– Viber

– Line

– Snapchat

– Pinterest

– Telegram

– Reddit

– Snaptish

– Youtube (upload)

– Vinc

– Xanga

– Buaanet

कई ट्रेनों को फूंका, दिनभर उपद्रव रहा जारी
अग्निपथ योजना के विरुद्ध बिहार में आक्रोशित छात्रों ने आंदोलन के तीसरे दिन शुक्रवार को भी जमकर उपद्रव मचाया. ट्रेनें फूंक दी गईं, रेलवे स्टेशनों पर तोड़फोड़ की गई. लखीसराय स्टेशन पर विक्रमिशला एक्सप्रेस के एसी सहित 20 कोच को आग के हवाले कर दिया गया. यात्री जान बचाकर भागे। आउटर सिग्नल पर खड़ी जनसेवा एक्सप्रेस के एसी कोच में आग लगा दी गई.

समस्तीपुर में लोहित एक्सप्रेस की सात, बिहार संपर्क क्रांति की पांच और समस्तीपुर स्टेशन पर अमरनाथ एक्सप्रेस के इंजन सहित एसी बोगी में आग लगा दी गई. मुजफ्फरपुर के सिहो रेलवे स्टेशन पर मालगाड़ी को रोक उसमें आग लगा दी. सुपौल में पैसेंजर ट्रेन को आग के हवाले कर दिया गया. उपद्रव के बाद कई ट्रेनें रद कर दी गई हैं.